कोविड-19 की तीसरी लहर और त्यौहारों के बाद हालात देखकर दिल्ली सरकार करे स्कूल खोलने का फैसला: चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली: दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा विशेषज्ञों की माने तो कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए अक्टूबर महीने में कोविड पीक पर होगा तथा अरविन्द केजरीवाल की दिल्ली सरकार का त्यौहारों के सीजन से पूर्व स्कूल खोलने का निर्णय दिल्ली में स्कूली बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। चौ0 अनिल कुमार ने चेतावनी देते हुए कहा कि देश के जिन राज्यों में स्कूल खोले गए है वहां स्कूली बच्चों में कोविड के मामले बढ़ रहे है, ऐसे में बच्चों की जान जोखिम में न डालकर दिल्ली के स्कूलों को तुरंत बंद कर देना चाहिए। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कहीं केजरीवाल ने प्राईवेट स्कूलों के दवाब में आकर तो स्कूल खोलने का फैसला नही लिया है, जो सिर्फ छात्रों से फीस उगाही करना चाहते हैं।

स्कूल खोलने का निर्णय दिल्ली में स्कूली बच्चों के लिए खतरनाक : चौ0 अनिल कुमार

आगे उन्होनें कहा कि स्कूलों को खोलने में जल्दबाजी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री को विचार करना चाहिए ताकि कोविड के तीसरी लहर की विशेषज्ञों की चेतावनी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली में स्कूली छात्रों को बचाया जा सके, क्योंकि सरकार जितना दायित्व छात्रों की पढ़ाई के लिए स्कूलों को खोलने का है, उतना दायित्व ही बच्चों की महामारी से सुरक्षा करने का भी है। चौ0 अनिल कुमार ने अनुरोध करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए स्कूलों को 2-3 महीने बाद संक्रमण के हालात को देखकर खोलने का विचार करें।

कोविड-19 की तीसरी लहर और त्यौहारों के बाद हालात देखकर दिल्ली सरकार करे स्कूल खोलने का फैसला: अनिल

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कोविड महामारी के तीसरी लहर की आशंका के चलते त्यौहार के सीजन को देखते हुए केजरीवाल को तुरंत स्कूल खोलने की बजाय 2-3 महीने बाद स्कूल खोलने पर विचार करना चाहिए क्योंकि पिछले वर्ष अक्टूबर में स्कूलों को आंशिक रुप से खोलना शुरु किया था परंतु कोविड मामलों में वृद्धि के चलते स्कूल बंद करने पड़े थे, क्योंकि बाजारां में भारी भीड़ में त्यौहारों में लोगों को घर से बाहर निकलना पड़ता है जिसके कारण मामलों में वृद्धि होना स्वाभाविक है। रिपोर्ट- कुलदीप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *