नई शिक्षा नीति को लागू करने वाला पहला राज्य बना उत्तराखण्ड: CM धामी

New Education Policy

उत्तराखंड: विद्यालयी शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित शैक्षिक चिन्तन शिविर (New Education Policy) कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए कहा कि मैं देश के प्रधानमंत्री Narendra Modi जी का धन्यवाद करता हूँ, जिन्होंने देश की आज़ादी के बाद पहली बार नई शिक्षा नीति लागू करने का काम किया है। उत्तराखण्ड नई शिक्षा नीति को यथावत लागू करने वाला पहला राज्य बनने जा रहा है। इसके लिए शिक्षा मंत्री और समस्त शिक्षा विभाग को हार्दिक बधाई। प्रधानमंत्री जी ने बेटियों के मान-सम्मान एवं मातृ शक्ति के उत्थान हेतु हरियाणा से शुरू की गई ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना’ आज पूरे देश में चल रही है। देश को स्वस्थ एवं स्वच्छ रखना सभी का दायित्व है।

सीएम धामी ने (New Education Policy) इस मौके पर कहा पिछले कुछ समय से कोरोना महामारी के कारण शैक्षणिक हानि हुई है। हमारे स्कूलों में छात्रों की संख्या घट रही है, ये प्रश्न हम सब का है। मुझे विश्वास है कि इसी चिंतन शिविर से इस प्रश्न का उत्तर निकलेगा। उसका लाभ हमारे प्रदेश को मिलेगा। देश के भविष्य निर्माण का काम किसी के पास है तो वो शिक्षकों के पास है। बाल्यकाल को शिक्षकों ने सही साँचे में ढाल दिया तो बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की राह अवश्य बनेगी।

उन्होनें आगे कहा कि (New Education Policy) राज्य सरकार ने पिछले दिनों अपने क्षेत्रों के विशेषज्ञों के साथ विचारों की श्रृंखला ‘बोधिसत्व’ कार्यक्रम आयोजित किया था। बजट के लिए ‘बजट संवाद’ का आयोजन किया गया था। हम जनता से लगातार संवाद कर रहे हैं। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि आने वाले समय में पर्वत माला श्रृंखला के अन्तर्गत हेमकुंठ साहिब सहित राज्य के 35 स्थानों पर रोपवे की सुविधा मिलने वाली है। इस बार की कांवड़ यात्रा भी चारधाम यात्रा की तरह पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ने वाली है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.