Advertisement

Rajasthan Election: राजस्थान में BJP को झटका, करणपुर सीट पर मिली करारी हार

Share
Advertisement

Rajasthan Election: राजस्थान में करणपुर विधानसभा सीट से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। बीजेपी करणपुर सीट से चुनाव हार चुकी है। बीजेपी ने सुरेंद्रपाल सिंह टीटी को इस सीट से बतौर प्रत्याशी मौदान पर उतारा था। ये नतीजे सोमवार (8 जनवरी) को आए हैं। राजस्थान की 199 सीटों पर 3 दिसंबर को ही नतीजे आ चुके थे।

Advertisement

12 हजार वोटों से हारी BJP

Rajasthan Election:  BJP के प्रत्याशी सुरेंद्रपाल सिंह टीटी (Surender Pal Singh) के खिलाफ इस सीट पर कांग्रेस ने रूपिंदर सिंह (Rupinder Kooner) को उतारा था। रूपिंदर सिंह को कुल 94761 वोट मिले जबकि टीटी को सिर्फ 83500 लोगों ने अपना मतदान दिया। कांग्रेस की 11 हजार से ज्यादा वोटों से जीत होने के बाद भी राजस्थान में बीजेपी की सरकार को कुछ खास फर्क नहीं पड़ेगा। लेकिन लोकसभा से पहले ये नतीजे बीजेपी के खिलाफ हवा उड़ाने में कामयाब हो सकते हैं।

टीटी को पहले ही मिल गया था मंत्रालय

बता दें कि मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने बीते दिनों सुरेंद्र पाल सिंह को चुनाव लड़े बगैर ही स्वतंत्र प्रभार का राज्य मंत्री बना दिया था। टीटी को चार मंत्रालय दिए गए थे। इस पर कांग्रेस ने आपत्ति भी जताई थी। कांग्रेस ने कहा था कि इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी को पहले मंत्री बना दिया गया हो और मंत्री बनने के बाद चुनाव लड़ने  के लिए मैदान में उतारा हो। कांग्रेस ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन भी बताया, लेकिन बीजेपी ने अपना प्रत्याशी नहीं बदला।

कुल 11 प्रत्याशियों से थी टक्कर

करणपुर सीट के लिए कुल 13 नामांकन दाखिल हुए थे। जिसमें से 1 का नामांकन खारिज हो गया था और एक प्रत्याशी ने नामांकन वापस ले लिया था। इसके बाद सिर्फ 11 प्रत्याशियो में मुकाबला था। इनमें भाजपा के सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, कांग्रेस के रुपिंदर सिंह कुन्नर, बसपा के अशोक कुमार, आम आदमी पार्टी के प्रीतीपाल सिंह, नेशनल जनमंडल पार्टी से कृष्ण कुमार, शिरोमणि अकाली दल से बालकरण सिंह के साथ निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में काला सिंह, चुकी देवी, छिंदरपाल सिंह और तितर सिंह भी प्रत्याशी थे। सभी प्रत्याशियों को पीछे करते हुए कांग्रेस ने जीत हासिल की।

ये भी पढ़े: Bihar: गाड़ी पर राजनीतिक पार्टी का बोर्ड लगाकर की जा रही थी शराब तस्करी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें