Kanpur हिंसा मामले पर Sakshi Maharaj का भड़काऊ बयान, बोले- ईंट का जवाब पत्थर से दो

कानपुर हिंसा पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने एक बार फिर विवाद बयान (Sakshi Maharaj Controversial Statement) दिया है।

Share This News
Sakshi Maharaj Controversial Statement

Kanpur Violence: उत्तर प्रदेश के कानपुर में शुक्रवार को जुमे की नमाज के फौरन बाद परेड, नई सड़क और यतीमखाना समेत कई इलाकों में हिंसा भड़क गई थी। नमाज के बाद दो समुदायों के सदस्य आमने-सामने आ गए और उन्होंने एक-दूसरे पर ईंटों से पथराव किया। अब इस कानपुर हिंसा पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने एक बार फिर विवाद बयान (Sakshi Maharaj Controversial Statement) दिया है। उन्होंने फेसबुक पर एक पोस्ट साझा करते हुए लिखा- हिंदुओं अभी भी एक हो जाओ कोई आपकी लड़ाई लड़ने नहीं आएगा।

शुक्र है, मोदी-योगी की सरकार है

अपने फेसबुक पोस्ट में साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj Controversial Statement) ने कहा कि अभी हाल में ही मैंने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा था कि हिंदुओं सावधान हो जाओ अपनी सुरक्षा के लिए तीर कमान रखें जरूरी चीजें रखें जिस पर कई लोगों ने मेरी बात का विरोध किया था आपने। बता दें कि बीते दिनों साक्षी महाराज ने सोशल मीडिया पर हिंदुओं को तैयार रहने की बात कही थी। उन्होनें आगे लिखते हुए कहा कि एक महीना पहले लिखा था हिन्दुओ घर में कांच की बोतल शस्त्र रखो। देश में मोदी योगी अमित शाह न होते तो ना जाने देश का क्या हाल होता। हिंदुओं सावधान हो जाओ अपनी सुरक्षा के लिए तीर कमान रखें। देख लिया ना कानपुर में क्या हुआ और कौन लोग हैं जो जुम्मे की नमाज के बाद पत्थर बरसाना शुरू कर दिए।

Read Also:- Kanpur Clash: जब दंगाइयों ने ईंट पत्थर से पुलिस पर कर दी बरसात… कानपुर हिंसा का ये हैरान करने वाला वीडियो

हिन्दुओ घर में कांच की बोतल रखो

साक्षी महाराज ने आगे लिखा कि (Sakshi Maharaj Controversial Statement) पुलिस भी अपने आप को उनके पत्थरों से नहीं बचा पाई पुलिस के कई लोग चोटिल हुए हैं। हिंदुओं अभी भी एक हो जाओ कोई आपकी लड़ाई लड़ने नहीं आएगा आपको खुद अपनी रक्षा करनी पड़ेगी। शास्त्र और शस्त्र दोनों का प्रयोग करना सीख लीजिए और अपनी रक्षा के लिए आत्म रक्षा उपयोगी उपकरण जरूर रखिए। सावधान हो जाइए यह व्यक्ति विशेष लोग कभी भी आपको अमन चैन से नहीं बैठने देंगे। चेन से तभी रहने देंगे जब आप ईट का जवाब पत्थर से देना सीख जाएंगे।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.