पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के बाद नूपुर शर्मा को मिली जान से मारने की धमकी, दिल्ली पुलिस ने दी सुरक्षा

New Delhi: उत्तर प्रदेश में हुए कानपुर हिंसा के बाद बीजेपी  ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने हाल ही में पैगंबर मोहम्मद पर विवादित बयान दिया था। जिसके बाद इससे भड़की हिंसा को लेकर काफी विरोध भी जताया गया। उनके दिए गए बयान पर कानपुर में मचे हंगामे के बाद बीजेपी की ओर से एक्शन लिया गया था। अब इसी बीच खबर ये सामने आ रही है कि नूपुर शर्मा को इस मामले पर उनके साथ पूरे परिवार को जान से मारने की धमकियां मिल रही है। जिसे देखते हुए दिल्ली पुलिस द्वारा उन्हें सुरक्षा मुहैया कराया गया है।

दिल्ली पुलिस ने नूपुर की बढ़ाई सुरक्षा

बता दें ये पूरा मामला नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट शो में पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने के बाद विवादों में घिर गया था। जिसके बाद ये विवाद काफी बढ़ गया है। यहां तक कि अरब देशों ने भी  नूपुर शर्मा की टिप्पणी कि निंदा की है। इस विवादित टिप्पणी के कारण नूपुर शर्मा और उनके परिवार को जान से मारने की अब धमकियां मिल रही हैं। हालांकि एक रिपोर्ट के अनुसार  नूपुर शर्मा को एक तथाकथित आतंकी संगठन ने धमकी दिया है।

यह भी पढ़ें: जो रुट ने बनाया अनोखा रिकॉर्ड, ड्रेसिंग रूम में हुआ जोरदार स्वागत, वीडियो हुआ वायरल

दिल्ली के गाजीपुर में विस्फोटक मिलने की जिम्मेदारी लेने वाले तथाकथित आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवातुल हिंद ने दिया है। उन्होंने कहा कि नुपुर शर्मा को हम हिदायत देते हैं की वो बयान वापस लेते हुए पूरे विश्व से माफी मांगे वरना हम वही करेंगे, जो प्रोफेट साहब की शान में गुस्ताखी करने वालों के साथ किया जाता है। हालांकि धमकी मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने उनकी सुरक्षा बढ़ा दी है।

बीजेपी ने नूपुर शर्मा से किया किनारा

इस मामले को लेकर बीजेपी ने पहले ही किनारा कर लिया है। भाजपा ने कहा कि इस तरह की टिप्पणी पार्टी के मूल विचारधारा के खिलाफ है। बीजेपी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पार्टी सभी धर्मों का सम्मान करती है। बीजेपी ने कहा कि पार्टी किसी भी धर्म से जुड़े व्यक्तित्व के आलोचना की कड़ी निंदा करती है।

Read Also: UP के बिजनौर में बिजली ना मिलने से ग्रामीण परेशान होकर विद्युत उपकेंद्र पर की तालाबंदी

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.