अफ़ग़ानिस्तान में इस्लामिक स्टेट ख़ुरासान (IS-K) के तीन नेता वैश्विक आतंकवादी, अमेरिका ने लगाया प्रतिबंध

अफ़ग़ानिस्तान शाखा इस्लामिक स्टेट से जुड़े तीन नेताओं पर सुपर पावर अमेरिका ने प्रतिबंध लगा दिया है। अमेरिका ने ऐलान किया है कि अफ़ग़ानिस्तान शाखा इस्लामिक स्टेट ख़ुरासान (IS-K) के तीनों नेताओं के आतंकी गतिविधियों मे मुलव्विस होने की वजह से उन पर ये रोक लगाई गई है।

इसके अलावा एक और व्यक्ति पर प्रतिबंध लगाया है। शख्स पर आरोप है कि वो इस संस्थान के आर्थिक सहायक के तौर पर काम कर रहा था।

अमेरिका की ओर से ये कदम ऐसे वक्त लिया गया है जब अफ़ग़ानिस्तान में सिलसिलेवार तरीके से आतंकवादी हमले लगातार हो रहे हैं। साथ ही सभी हमलों की जिम्मेदारी खुद IS-K ने ली है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने सोमवार को एक बयान जारी करते हुए कहा कि उसने इस संगठन के (प्रमुख) अमीर सनाउल्लाह ग़फ़्फ़ारी, प्रवक्ता सुल्तान अज़ीज़ आज़म और काबुल प्रांत के नेता मौलाव रजब को विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादियों की सूची में डाल दिया गया है।

विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने ये जानकारी दी।

और किस पर लगी रोक

अमेरिका के वित्त मंत्रालय ने इस्मातुल्लाह ख़ालोज़ई को भी अंतरराष्ट्रीय तौर से ब्लैक लिस्ट कर दिया है। ख़ालोज़ई पर आरोप है कि वो तुर्की से पैसे और हर वाजिब आर्थिक मदद करने का नेटवर्क चला रहा था। और ये पैसा हवाला के जरिए इस्लामिक स्टेट ख़ुरासान प्रांत तक जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *