Advertisement

हरिद्वारः सनातन पर विवादित बयान को लेकर अखाड़ा परिषद की बैठक, दी चेतावनी

Share
Advertisement

सनातन धर्म पर हो रहे विवादों और हनुमान को लेकर स्वामीनारायण संप्रदाय द्वारा जारी बयानों के बाद, उत्तराखंड के हरिद्वार में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद का आपातकालीन बैठक आयोजित की गई।

Advertisement

इस बैठक में संतों ने सर्वसम्मति से तीन प्रस्ताव पारित किए हैं। इसमें सनातन धर्म के खिलाफ बयानबाजी, धर्म के देवी-देवताओं का अपमान और ग्रंथों में वर्णित बातों को गलत तरीके से प्रस्तुत करने के मामले पर चर्चा की गई थी। इस आपातकालीन बैठक में सात अखाड़ों के संत उपस्थित थे।

बता दें अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत रविंद्र पुरी ने बताया कि कर्नाटक और केरल के मंत्री सनातन धर्म के खिलाफ हैं, और उन्होंने उन मंत्रियों के खिलाफ निंदा करते हुए प्रस्ताव पास किया है।

साथ ही रविंद्र पुरी ने कहा कि स्वामीनारायण संप्रदाय के संतों ने पांच पूजा के देवता भगवान हनुमान का अपमानित चित्रण किया है. इस कारण संप्रदाय के प्रतिबंध की मांग बैठक में की गई है। अखाड़ा परिषद और अखिल भारतीय संत समिति ने संप्रदाय का पूर्व में बहिष्कार किया है। बहिष्कार के बावजूद उस संप्रदाय के पाठ्यक्रम और वार्तालाप में भगवान हनुमान का विरोध जारी है।

बता दें बैठक में संप्रदाय के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास किया गया है। संप्रदाय से भविष्य में ऐसा न करने का आग्रह भी किया गया है, अगर फिर भी भगवान हनुमान का अपमान बंद नहीं होता है तो संप्रदाय के खिलाफ सरकार के माध्यम से कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें: iPhone 15 लॉन्च होते ही पुराने आईफोन हुए बेहद सस्ते, ₹10 हजार कम हुईं कीमतें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *