Advertisement

एनडीआरएफ ने राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई लौह पुरुष की जयंती

Rastriya Ekta Diwas

Rastriya Ekta Diwas

Share
Advertisement

Rastriya Ekta Diwas: 9वीं बटालियन एनडीआरएफ ने 31 अक्टूबर को लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती मनाई। इस अवसर पर राष्ट्रीय एकता दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान सुनील कुमार सिंह, कमान्डेंट ने उपस्थित बटालियन के बचावकर्मियों को लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई द्वारा राष्ट्र की एकता और अखंडता के लिए किए गए महत्वपूर्ण योगदान से अवगत कराया।

Advertisement

‘वल्लभ भाई ने देश को एकजुट करने के लिए किए थे अनेक प्रयास’

इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वतंत्र भारत के पहले उप प्रधानमंत्री एवं पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने देश को एकजुट करने के लिए अनेक प्रयास किए थे। उनके अथक प्रयासों के कारण ही आज हम भारत की वर्तमान स्थिति देख पा रहे हैं। उनके इन्हीं कार्यों को याद करने के लिए एवं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए उनके जन्मदिवस के अवसर पर 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जाता है।

Rastriya Ekta Diwas: दिल्ली में की गई थी कार्यक्रम की शुरुआत-सुनील

उन्होंने कहा, इस कार्यक्रम की शुरूआत भारत सरकार द्वारा 31 अक्टूबर, 2014 को दिल्ली में की गई थी। इस दौरान सुनील, कमान्डेंट 9वीं वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल ने वाहिनी के समस्त अधिकारी, अधीनस्थ अधिकारी एवं सभी जवानों के साथ देश की एकता तथा अखंडता को बनाए रखने की शपथ ली।

Rastriya Ekta Diwas: अन्य स्थानों पर भी हुआ आयोजन

उन्होंने बताया कि 9वीं बटालियन एनडीआरएफ द्वारा राष्ट्रीय एकता दिवस बटालियन हेडक्वार्टर बिहटा के साथ-साथ कंपनी तैनाती स्थल दीदारगंज (पटना), रिजनल रेस्पांस सेन्टर सुपौल, देवघर तथा राँची में भी मनाया गया है।

रिपोर्टः सुजीत श्रीवास्तव, ब्यूरोचीफ, बिहार

ये भी पढ़ें: बिहारः सीएम नीतीश ने लौह पुरुष को किया याद, दी श्रद्धांजलि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *