Advertisement

Arrah:  तलाक के मामले में सिविल कोर्ट पहुंचे भोजपुरी फिल्म स्टार पवन सिंह

Pawan Singh in Court

Pawan Singh in Court

Share
Advertisement

Pawan Singh in Court: बिहार की भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्रीज में पावर स्टार के नाम से मशहूर पवन सिंह आरा सिविल कोर्ट में पेश हुए। कड़ी सुरक्षा के बीच उन्हें कोर्ट लाया गया। दरअसल पवन सिंह का अपनी पत्नी ज्योति सिंह से तलाक का केस चल रहा है। इस मामले को लेकर आरा सिविल कोर्ट में बुधवार को एक बार फिर पेशी हुई। सिविल कोर्ट के कुटुंब न्यायालय (फैमिली कोर्ट) में न्यायाधीश श्वेता सिंह के समक्ष पवन सिंह ने अपनी बातों को रखा।

Advertisement

Pawan Singh in Court:  उमड़ी दर्शकों की भीड़

इस दौरान पवन सिंह को देखने के लिए कोर्ट के बाहर समर्थकों की भीड़ उमड़ी। समर्थकों ने आरा कोर्ट परिसर में पवन सिंह जिंदाबाद के नारे भी लगाए। जिसके बाद कोर्ट परिसर में मौजूद पुलिसकर्मियों ने सबको शांत करवाया।
गवाही देने आए थे।

पवन सिंह ने वकील सुदामा सिंह ने बताया कि पवन सिंह ने अपने केस में गवाही दी है। अब अगली डेट पर अग्रतर कार्रवाई होगी। अभी तो ट्रायल चल रहा है। अभी दोनों तरफ से गवाही होगी। लास्ट में बहस होगी। फिर निर्णय होगा। उन्होंने बताया कि अब तक चार गवाही हो चुकी हैं। डेढ़ घंटे तक गवाही की प्रकिया हुई है।

मारपीट और अन्य आरोप

आपको बता दें कि ज्योति सिंह के तरफ से पवन सिंह पर मारपीट, गर्भपात का आरोप लगाया गया है। जिसको लेकर ज्योति सिंह ने पवन सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। जिसके बाद यह मामला कोर्ट तक पहुंचा और तलाक को लेकर दलीलें हुईं।

पत्नी ने मांगे थे तीन करोड़

इस मामले में ज्योति सिंह ने तीन करोड़ रुपये और नोएडा में एक घर की डिमांड की थी। इन सब दलीलों पर पवन सिंह ने कुछ नहीं कहा था। जिसके बाद ज्योति सिंह के वकील ने केस लड़ने की बात कही थी। उन्होंने बताया था कि पवन सिंह की तरफ से एक करोड़ रुपये वन टाइम सेटलमेंट की बात कही गई थी।
पवन सिंह ने एक करोड़ देने की बात कही थी

पवन सिंह के वकील सुदामा सिंह ने बताया था कि ज्योति सिंह द्वारा पहले पांच करोड़ रुपये मांगे जा रहे थे। न्यायाधीश के समझाने पर वो तीन करोड़ रुपये और नोएडा का एक फ्लैट मांग रही थीं। पवन सिंह ने अपनी सहूलियत के हिसाब से उनको एक करोड़ रुपये देने की बात को रखा था।

शुरु हुआ ट्रायल

उन्होंने बताया, इसपर ज्योति सिंह राजी नहीं हुई थी। जिसके बाद से ही मामला सुलझने के बजाय बिगड़ गया था। अब ट्रायल शुरू किया गया है। जिसपर बुधवार को पवन सिंह ने अपनी पहली गवाही दी है।

रिपोर्टः अख्तर शफी, संवाददाता, आरा, बिहार

ये भी पढ़ें: कर्पूरी ठाकुर ने दी सामाजिक न्याय के आंदोलन को धार- उमेश सिंह कुशवाहा

Follow us on: https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *