Advertisement

इमरान की गिरफ्तारी के बाद सुलग रहा पाकिस्तान, गवर्नर हाउस-सेना दफ्तर पर कब्जा

Share
Advertisement

पूर्व पीएम इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान सुलग उठा है। देशभर से हिंसा की खबरें सामने आ रही हैं। इमरान के समर्थक आगजनी और तोड़फोड़ कर रहे हैं। इस बीच इस्लामाबाद हाईकोर्ट से भी इमरान को झटका लगा है। इमरान की गिरफ्तारी को हाईकोर्ट ने सही ठहराया है। इमरान की पार्टी पीटीआई ने देशभर में विरोध प्रदर्शन बुलाए हैं। हिंसा को देखते हुए पूरे पाकिस्तान में धारा 144 लगाई जा चुकी है।

Advertisement

पाकिस्तान में मोबाइल इंटरनेट के बाद अब ट्विटर सर्विस बंद हो गई है। पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण ने पुष्टि की कि आतंरिक मंत्रालय के निर्देश पर देश भर में मोबाइल ब्रॉडबैंड को निलंबित कर दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, व्हाट्सएप और फेसबुक समेत तमाम सोशल मीडिया साइट्स को भी बंद कर दिया गया है। पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान मंगलवार को इस्लामाबाद हाई कोर्ट में कुछ मामलों में सुनवाई को लिए पहुंचे हुए थे। जैसे ही इमरान खान की कार हाईकोर्ट के अंदर दाखिल होती है, वैसे ही पैरामिलिट्री फोर्स के जवान हाईकोर्ट में दाखिल होते हैं।

जब इमरान खान इस्लामाबाद हाईकोर्ट के अंदर अपने बायोमैट्रिक्स करा रहे थे, तभी पाकिस्तान सेना के रेंजर्स कमरे के कांच तोड़ते हुए अंदर घुसते हैं, और उन्हें गिरफ्तार कर लेते हैं। इमरान की पार्टी पीटीआई ने उनकी गिरफ्तारी को शुरुआत में अपहरण बताया था। इमरान खान को गिरफ्तारी के बाद पाक रेंजर्स घसीटकर गाड़ी तक ले गए। उनकी गिरफ्तारी के बाद से ही इस्लामाबाद शहर में हिंसक प्रदर्शन शुरू हुए और देखते ही देखते पूरे देश में हिंसक प्रदर्शन होने लगे।

पाकिस्तान के पूर्व पीएम की गिरफ्तारी के बाद माहौल इतना बिगड़ी कि सरकार को पूरे देश में धारा 144 लागू करनी पड़ी। इमरान खान की गिरफ्तारी के खिलाफ उनकी पार्टी पीटीआई इस्लामाबाद हाई कोर्ट पहुंची थी और अदालत से मांग की कि पूर्व पीएम को रिहा किया जाए। इस्लामाबाद हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस ने इस मामले को गंभीरता से लिया और मंगलवार यानी कल दोपहर में ही तुरंत तमाम अधिकारियों को कोर्ट रूम में तलब किया, हालांकि देर रात 10:30 बजे आए फैसले में इमरान खान को कोई राहत नहीं मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *