Advertisement

गाजियाबाद : भीषण गर्मी, 3 दिनों में 42 लोगों की मृत्यु, गौतमबुद्ध नगर जिले में भी 14 लोगों की संदिग्ध मौत

Extreme Heat

Hospital

Share
Advertisement

Extreme Heat: गर्मी में लोगों के तबियत बिगड़ रही है. पहले से बीमार लोगों की सेहत पर इसका बुरा असर पड़ रहा है पिछले 3 दिनों में गाजियाबाद जिले के सरकारी अस्पतालों के इमरजेंसी में 42 लोगों को मृत अवस्था में लाया गया. मौत का कारण जानने के लिए एक कमेटी गठित की गई है. अधिकांश लोगों को उल्टी, दस्त की शिकायत बताई गई है. मौत की असली वजह जांच के बाद ही पता लग सकेगी. आशंका है कि लू या हीटवेव मौत की वजह हो सकती है.

Advertisement

अकेले जिला एमएमजी अस्पताल की इमरजेंसी में 3 दिनों में 45 लोगों की मौत हुई है. इनमें से 12 शवों को उनके परिवारजनों को सौंप दिया गया और अन्य शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. संयुक्त अस्पताल और सीएचसी लोनी में दो की मौत हुई है. सोमवार और मंगलवार देर शाम तक कोविड के बाद पहली बार जिला एमएमजी अस्पताल की इमरजेंसी में इतने लोगों को मृत अवस्था में लाया गया. चिकित्सकों ने सभी को मृत घोषित कर दिया. इनमें अधिकांश अज्ञात लोग शामिल हैं. चिकित्सकों के अनुसार भीषण गर्मी के चलते लोग बेहोश होकर गिर रहे हैं. कई दम तोड़ रहे हैं.

जिला एमएमजी अस्पताल में मरीजों ने बताया कि एक बेड पर दो लोगों का इलाज चल रहा है. AC लगा है. मगर ठंडक नहीं हो पा रही है. जिसके कारण लोग अपने मरीज को पंखा कर रहे हैं. इमरजेंसी की स्थिति में लोग पहुंच रहे हैं मगर उनको एक-एक घंटे तक इलाज नहीं मिल रहा है.

चिकित्सकों ने बताया कि इस वक्त टेंपरेचर हाई लेवल पर है. इसके बचाव के लिए हमें जरूरी काम से ही घर से बाहर निकलना चाहिए. 12 से 4:00 बजे के बीच 45 से 46 डिग्री टेंपरेचर को झेलना पड़ता है. जिसके लिए हमें नींबू पानी, जूस, ठंडे पानी, व ठंडे जगह से तुरंत गर्म जैसी जगह पर जाने से बचना होगा. घर से बाहर निकलते समय सिर पर कोई सूती कपड़ा या टोपी का प्रयोग करें व पूरे शरीर को ढक कर ही निकलें ताकि गर्मी से बचाव हो सके. धूप में बाहर निकलने के बाद अगर पसीना अधिक मात्रा में आता है, या चक्कर आ जाए तो आस पास किसी भी चिकित्सक को दिखाएं ताकि लू लगने से पहले उसका उपचार हो सके.

वहीं गौतमबुद्ध नगर जिले में 24 घंटे में 14 लोगों की संदिग्ध मौत हुई है. लू के चलते इन मौतों की आशंका जताई जा रही है. मौत का सही कारण जानने के लिए शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. जानकारी के अनुसार 6 से 7 के करीब अज्ञात शव इसमें शामिल हैं. पोस्टमार्टम के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी. थाना सेक्टर 142, एक्सप्रेस वे थाना, थाना सेक्टर 24, थाना सेक्टर 58, कोतवाली 39, फेज 2 थाना, कोतवाली सेक्टर 126, फेज 1 थाना क्षेत्र में मिले ये शव मिले हैं. जिला अस्पताल की CMS डॉक्टर रेनू अग्रवाल ने इसकी पुष्टि की है. 24 घंटे में 14 के करीब शव जिला अस्पताल पहुंचे हैं.

यह भी पढ़ें: दिल्ली वालों को उनके हक का पानी दिलवाने के लिए 21 जून से अनशन करेंगी आतिशी

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *