अमित शाह से लेकर पीएम मोदी पर संजय राउत का ये आरोप देख चौंक जाएंगे आप

Maharashtra Crisis:  महाराष्ट्र में जब से सत्ता में परिवर्तन हुआ है तब से ही राजनीतिक गलियारों में सियासी बयानों की राजनीति ने जोर पकड़ लिया है। आपको बता दें कि शिवसेना के मुखपत्र सामना में कुछ ऐसा छपा और नेता संजय राउत ने कुछ ऐसा कहा है। जिसने महाराष्ट्र की सियासत का पारा मानों सातवें आसमान पर पहुंचा दिया है। इसमें साफ तौर पर लिखा है कि महाराष्ट्र में आए इस राजनीतिक भूचाल के पीछे और कोई नहीं बल्कि दिल्ली में बैठी सरकार है। उस लेख में ये भी लिखा था कि महाराष्ट्र में जो भी हुआ उसकी पठकथा पहले ही लिखी जा चुकी थी।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र विधानसभा में कल होगा बहुमत परिक्षण, क्या बागी विधायकों के निलंबन से घटेंगे वोट?

राज्यपाल की भूमिका पर उठे सवाल

इस लेख में तो महाराष्ट्र के राज्यपाल को भी कटघरे में खड़ा कर दिया गया है। इसका मतलब साफ है कि इस पूरे सियासी नाटक में राज्यपाल की भूमिका भी अहम रही होगी। पार्टी मुखपत्र में कहा गया, एकनाथ शिंदे का मुख्यमंत्री बनना, ये बात फडणवीस के लिए किसी सदमें से कम नहीं है। लेख की माने तो सियासी समीकरण को सही दिशा में साधने के लिए ऐसा कदम उठाया गया है। उस लेख में ये भी लिखा है कि शिंदे के मुख्यमंत्री बनने के पीछे अमित शाह की गंदी राजनीति है। सामना में फडणवीस और अमित शाह के संबधों को भी खराब बताया गया है।

समय के फेर ने तोड़ा फडणवीस के मुख्यमंत्री बनने का सपना?

सामना में छपे लेख के मुताबिक,  2019 में सत्ता का 50-50 के फॉर्मूला को भाजपा ने कुर्सी  के लालच में ठुकरा दिया था। महाविकास आघाड़ी की सरकार इसी वजह से बनी। उद्धव ठाकरे ढाई साल मुख्यमंत्री बने और अब बागी शिवसैनिक शिंदे को यह पद बीजेपी हाईकमान ने दिया है। लेख में भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ये सब समय का खेल है। तभी तो लाख कोशिश करने के बावजूद भी मुख्यमंत्री शिवसेना का ही बना।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही, CM आवास में घुसा अज्ञात व्यक्ति

रिपोर्ट: निशांत

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.