अब दिल्ली के बच्चों को मिलेगी अंरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा, सीएम केजरीवाल की मौजूदगी में दिल्ली शिक्षा बोर्ड का इंटरनेशनल शिक्षा बोर्ड से हुआ करार

नई दिल्ली:  अब दिल्ली के बच्चों को अंरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा मिलने का रास्ता साफ हो गया है। बुधवार को दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मौजूदगी में दिल्ली शिक्षा बोर्ड का इंटरनेशनल शिक्षा बोर्ड के साथ एमओयू साइन हुआ। शिक्षा निदेशक उदित प्रकाश राय और आईबी की ओर से भारत-नेपाल के हेड ऑफ़ डेवलपमेंट एंड रिकॉग्निशन महेश बालाकृष्णन ने समझौते पर हस्ताक्षर किए।

इसके बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि जिस शिक्षा के लिए बड़े-बड़े अमीरों के बच्चे तरसते हैं, अब वह शिक्षा दिल्ली के गरीब बच्चों को मिला करेगी। इस समझौते के बाद दिल्ली के स्कूली बच्चों का मूल्यांकन अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की देखरेख में तय प्रणाली के तहत की जाएगी और स्कूलों को अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा। अभी 30 स्कूलों से शुरू किया जा रहा है। इन स्कूलों के शिक्षकों की ट्रेनिंग अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ करवाएंगे। अब हमारे बच्चे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मुकाबला करने के लायक बनेंगे। यह मॉडल पूरे देश को एक दिशा दिखाएगा और दिल्ली के साथ हमारे देश से गरीबी दूर होगी।

इस दौरान उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हम चाहते हैं कि हमारे छात्र वैश्विक लीडर बनें। आईबी के साथ हमारी साझेदारी उस दिशा में एक कदम है। हम नहीं चाहते कि हमारे छात्र सिर्फ परीक्षा पास करें, बल्कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पेशेवर और जिम्मेदार नागरिक बनें। वहीं, इंटरनेशनल बैकलॉरिएट के एशिया-पैसिफिक की डेवलपमेंट और रिकॉग्निशन प्रमुख स्टेफनी लिओंग ने कहा कि इंटरनेशनल शिक्षा बोर्ड स्कूली शिक्षा को उच्चतम गुणवत्ता पर लाकर व्यावसायिक आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करता है।

 रिपोर्ट- कंचन अरोड़ा

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.