केजरीवाल सरकार के बिजनेस ब्लास्टर्स को मिली शानदार सफलता, पूरे भारत में हो रही प्रशंसा

नई दिल्ली: बिजनेस ब्लास्टर्स के 28 नवंबर 2021 को पहले एपिसोड के लॉन्च के बाद दूसरा एपिसोड रविवार को प्रसारित किया गया। जिसमें दिल्ली सरकार के स्कूलों के उत्कृष्ट छात्रों ने प्रमुख निवेशकों के सामने अपने व्यावसायिक विचारों को पेश किया।

शो के दूसरे एपिसोड में बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप, इंडिया की निदेशक सीमा बंसल, प्रमुख कैफे चेन चायोस के संस्थापक नितिन सलूजा और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जज के रूप में नजर आए।

बिजनेस ब्लास्टर्स के दूसरे एपिसोड में छात्र उद्यमियों ने प्रमुख निवेशकों के सामने नए आइडिया पेश किए

इस शो में स्कूल ऑफ एक्सीलेंस, खिचड़ीपुर के विज्ञान संकाय के छात्र सुख सागर ने जजों के सामने पहला आइडिया साझा किया। उन्होंने अपने दोस्त की मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान पर अपना खाली समय बिताते हुए मोबाइल और हेडफ़ोन की मरम्मत करना सीखा। मोबिसाइट नाम के इस स्टार्ट-अप आइडिया के दौरान यह हुनर काम आया। उन्होंने कहा कि जब ऑनलाइन कक्षाएं शुरू हुईं तो मेरी कक्षा के कई बच्चों के पास मोबाइल फोन नहीं था। इसलिए हमने पुराने मोबाइल फोन को रीफर्बिश्ड करने और उन्हें कम कीमत पर बेचने का फैसला किया, जो हर कोई खरीद सकता है। सीड धनराशि 50 हजार रुपये प्राप्त करने और चायोस में इंटर्नशिप प्राप्त करने पर उन्होंने कहा कि बिजनेस ब्लास्टर्स ने हमें न केवल मूल्य निर्धारण, समय प्रबंधन और नेतृत्व कौशल सिखाया, बल्कि इतनी कम उम्र में आत्मनिर्भर बनने के लिए एक मंच दिया है। जिससे मैं बहुत खुश हूं।

युवा उद्यमियों के विचारों से अभिभूत हुए जज, निवेश कर अग्रिम आर्डर भी दिया

दूसरा आइडिया स्कूल ऑफ एक्सीलेंस, खिचड़ीपुर की दो छात्राओं शीज़ा अली और साक्षी झा ने होम 2 क्रिएशन का पेश किया। इस स्टार्ट-अप के तहत दो तरह की एक्सेसरीज़ का व्यापार किया, जिसमें वॉल हैंगिंग, की-चेन, निट और लूम बैग, चॉकलेट शामिल हैं। इसमें सीमा बंसल और नितिन सलूजा ने 20 हजार रुपए का अतिरिक्त निवेश किया। उन्होंने कहा कि आखिर में मुझे लगता है कि उद्यमिता यही है। यह अन्य लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के साथ आप अपना भी जीवन सुधारते हैं। इस परियोजना ने हमें बहुत कुछ सिखाया है। इस प्रोजेक्ट ने शुरुआती चुनौतियों, टीम वर्क, योजना और प्रत्येक सदस्य के सहयोग से बड़ी सफलता हासिल की है।

बिजनेस ब्लास्टर्स भारत का अपनी तरह का पहला टेलीविजन कार्यक्रम है, जो दिल्ली सरकार के स्कूलों के 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को निवेशकों के सामने अपने प्रोजेक्ट को प्रस्तुत करने का मौका देगा। इसके साथ ही प्रोजेक्ट को अगले स्तर तक ले जाने के लिए निवेश प्राप्त करने का अवसर देगा। यह शो 3 लाख छात्रों द्वारा पेश किए गए 51 हजार आइडियाज में से चुने गए छात्रों के व्यावसायिक आइडियाज का गवाह बनेगा।

छात्रों को प्रत्येक रविवार को शाम 7 बजे कठिन व्यावसायिक सवालों का सामना करते हुए देखें। इन नवोदित उद्यमियों का मेंटर बनने के लिए www.thebusinessblasters.in पर रजिस्टर करें।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.