Advertisement

Shane Warne Passes Away: नहीं रहे फिरकी के ‘जादूगर’ महान स्पिनर शेन वार्न, 52 साल की उम्र में निधन

Share
Advertisement

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट के दिग्गज स्पिनर शेन वार्न का 52 साल की उम्र में निधन हो गया है. बताया जा रहा है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा, जिसके चलते अब वो हमारे बीच नहीं रहे. शेन वॉर्न थाईलैंड में मौजूद थे. जानकारी के मुताबिक शेन वॉर्न अपने विला में मौजूद थे, और उन्हें वहां अचेत पाया गया. जिसके बाद उन्हें चिकित्सा भी उपलब्ध कराई लेकिन, काम ना आ सकी.  

Advertisement

थाईलैंड में हुआ निधन

शेन वॉर्न के मैनेजमेंट द्वारा जारी इस बयान में कहा गया कि उनकी मृत्यु थाईलैंड के कोह सामुई में हुई. बयान में कहा गया, ‘शेन अपने विला में अचेत अवस्था में पाए गए और चिकित्सा कर्मचारियों के बेस्ट प्रयासों के बावजूद, उन्हें पुनर्जीवित नहीं किया जा सका.

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वॉर्न के मैनेजमेंट ने अपने जारी किए बयान में कहा, ‘परिवार इस समय गोपनीयता का अनुरोध करता है और उचित समय में और विवरण प्रदान करेगा. गुरुवार को ही शेन वॉर्न ने अपने थाईलैंड में स्थित विला की एक तस्वीर अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की थी.

फिरकी के जादूग ने 1993 के एशेज के दौरान मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट में इंग्लैंड के माइक गेटिंग को जिस गेंद पर बोल्ड किया था, उसे क्रिकेट इतिहास की सर्वश्रेष्ठ गेंद माना जाता है और उस गेंद ने वॉर्न की जिंदगी बदल कर रख दी थी.

145 टेस्ट में चटकाए 708 विकेट

वॉर्न ने कलाई की जादूगरी से अपने समय के लगभग सभी दिग्गजों को अपनी फिरकी के जाल में फंसाया. वॉर्न ने अपने 145 मैचों के टेस्ट करियर में 708 विकेट चटकाए, जो मुथैया मुरलीधरन 800 विकेट के बाद टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक है. हालांकि, इतनी बड़ी उपलब्धि होने के बाद वह कभी ऑस्ट्रेलिया के कप्तान नहीं बन सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें