Advertisement

सुखबीर सिंह बादल ने भारत और कनाडा के बीच बढ़ते तनाव पर कहा, ‘कनाडा में रहने वाले पंजाबियों…’

सुखबीर सिंह बादल ने भारत और कनाडा के बीच बढ़ते तनाव पर कहा, 'कनाडा में रहने वाले पंजाबियों...'

सुखबीर सिंह बादल ने भारत और कनाडा के बीच बढ़ते तनाव पर कहा, 'कनाडा में रहने वाले पंजाबियों...'

Share
Advertisement

भारत और कनाडा में तनाव लगातार बढ़ता दिख रहा है। कनाडा के प्रधानमंत्री ने भारत को खालिस्तान समर्थक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का दोषी ठहराया। दोनों देशों के डिप्लोमेट्स निष्क्रिय हैं। वहीं नई दिल्ली ने कनाडाई नागरिकों के लिए वीजा सेवाओं को अनिश्चित काल के लिए रोका दिया है। भारत-कनाडा तनाव को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने शिरोमणि अकाली दल के मुखिया सुखबीर सिंह बादल से मुलाकात की है।

Advertisement

मामले को जल्द से जल्द किया जाए हल

गृहमंत्री अमित शाह से सुखबीर सिंह बादल की बैठक महत्वपूर्ण है। भारत-कनाडा तनाव पर अकाली दल के मुखिया सुखबीर सिंह बादल ने चिंता व्यक्त की है। बता दें कि बहुत से पंजाबी कनाडा में रहते हैं करीब सत्तर हजार पंजाबी विद्यार्थी कनाडा में पढ़ने जाते हैं। अब उनके परिवार को मुसीबत आ सकती है। सुखबीर बादल ने सरकार से मांग की है कि मामले को जल्द से जल्द हल कर दिया जाए, ताकि परिस्थितियां ज्यादा खराब न हों।

अकाली दल के मुखिया सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट कर लिखा कि भारत में कनाडाई नागरिकों के लिए वीज़ा सेवाओं के अनिश्चितकालीन निलंबन कर दिया है और क्योंकि यह उस देश में रह रहे लाखों पंजाबियों या भारतीय मूल के विदेशी नागरिकों को प्रभावित करता है। यह पंजाबियों को बहुत परेशान करने वाला है, खासकर सिखों के सबसे देशभक्त समुदाय के सदस्यों को, जिन्होंने देश की आजादी के लिए और सीमाओं पर बाहरी आक्रमण से लड़ने के लिए अद्वितीय बलिदान दिया है।

वीज़ा सुविधा करेंगी युवाओं को प्रभावित

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि वीज़ा सुविधा की बाधाएं विशेष रूप से हमारे युवाओं को प्रभावित करेंगी, जो हर साल कनाडा जाते हैं और वहीं रहते हैं। मेरे पास कनाडा में रहने वाले पंजाबियों से फोन और संदेश आए हैं। उनका कहना था कि अकाली दल अपनी मातृभूमि के लिए सुरक्षित और सुगम यात्रा सुनिश्चित करने के लिए हस्तक्षेप करेगा। हालात की गंभीरता को समझते हुए शिरोमणि अकाली दल दोनों देशों की सरकारों से इस समस्या को जल्द से जल्द हल करने की मांग करता है।

ये भी पढ़ें – जत्थेदार रघबीर सिंह ने भारत सरकार से किया सवाल, कनाडाई PM के बयान को लेकर बढ़ा विवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *