Advertisement

मालदीव-चीन की नजदीकियों पर शशि थरूर ने जताई चिंता, केंद्र सरकार को किया आगाह

Shashi Tharoor on Maldives alerted modi govt
Share
Advertisement

Shashi Tharoor on Maldives: भारत-मालदीव के बीच का विवाद अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। देश में #boycottmaldives ट्रेंड पर है। मालदीव के मंत्रियों द्वारा पीएम मोदी पर विवादित टिप्पणी करने के कारण ये विवाद शुरू हुआ था। अब इस पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है। उन्होंने (शशि थरूर) चीन-मालदीव की बढ़ती नजदीकियों को भारत के लिए खतरा बताया है।

Advertisement

चीन-मालदीव की नजदीकियां सही नहीं

शशि थरूर (Shashi Tharoor on Maldives) ‘तुगलक’ पत्रिका के 54वें वार्षिक दिवस समारोह में शामिल हुए थे। वहीं उन्होंने बताया कि चीन भारत की सीमा पर अपना प्रभाव बढ़ाने का प्रसाय कर रहा है। थरूर ने कहा कि भारत को मालदीव सरकार की चीन के साथ बढ़ती निकटता पर बहुत ध्यान से नजर रखने की जरूरत है। कांग्रेस नेता ने कहा कि हालिया सोशल मीडिया विवाद दुर्भाग्यपूर्ण था, मुझे नहीं लगता कि विदेश नीति सोशल मीडिया पर संचालित होनी चाहिए।

पड़ोसी की संवेदनाओं का करना चाहिए सम्मान

शिश थरूर ने आगे कहा कि मालदीव हमेशा से भारत विरोधी नहीं रहा है। वहां ऐसे कई नेता हुए जो भारत समर्थक रहे हैं। हमने कई बार मालदीव की मदद की है. जब वे भारी जल संकट का सामना कर रहे थे, तब भी हमने उन्हें पीने का पानी उपलब्ध कराया था, यहां तक कि उस समय सत्ता में मौजूद पार्टी भारत के खिलाफ (इंडिया आउट) अभियान चला रही थी। हमें फल की चिंता किए बगैर सही काम रना चाहिए। हमें अपने सबसे करीबी पड़ोसी देश की संवेदनाओं को समझना और उनका सम्मान करना चाहिए।

सरकार को सतर्क रहने की जरूरत

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा की हमारी सरकार को सतर्क रहने की जरूरत है। थरूर ने आगे कहा की भारत को ये समझने की जरूरत है की मालदीव को दूसरे देशों के साथ भी संबधं रखने का अधिकार है। लेकिन कुछ चीजें हम अपने हितों के लिए गंभीर चिंता के रूप में देखेंगे और उन पर हम उचित कार्रवाई करेंगे।

ये भी पढ़ें: Mayawati Birthday: BSP सुप्रीमो मायावती का 68वां जन्मदिन, गठबंधन को लेकर कर सकती हैं बड़ा ऐलान!

Follow us on: https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *