संसद में सरकार का कबूलनामा, चीन ने हमारी 38 हजार वर्ग किमी जमीन कब्जा कर रखा है

भारत की जमीन पर कब्जा

चीन ने भारत की 38 हजार वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्जा कर रखा है। चीन पिछले 6 दशकों से यह काम कर रहा है। सरकार ने शुक्रवार को लोकसभा में एक सवाल के जवाब में यह बातें कही। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने एक सवाल के लिखित जवाब में कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में पिछले 6 दशकों से चीन करीब 38 हजार वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर अवैध कब्जा कर रखा है।

विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा कि पाकिस्तान ने 1963 में अवैध रूप से कब्जा किए गए शक्सगाम घाटी के 5 हजार 180 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र को अवैध रूप से चीन को सौंप दिया है।

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 3 फरवरी को संसद में सरकार की जमकर आलोचना की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि केंद्र की गलत नीतियों के चलते चीन और पाकिस्तान साथ हो गए।

राहुल गांधी ने संसद में भारत सरकार की नीति का आलोचना करते हुए कहा था कि आपकी नीति ने चीन और पाकिस्तान को एकजुट करने का काम किया है और यह सबसे बड़ी चुनौती भारत के सामने है। चीन के पास एक क्लियर प्लान है और उसकी नींव डोकलम और लद्दाख में रखी है।

अमेरिका आया भारत के साथ

बता दें कि हाल ही में भारत ने चीन के विंटर ओलंपिक का राजनयिक बहिष्कार करने का फैसला किया है। भारत सरकार के इस फैसले का अमेरिका ने भी खुलकर स्वागत किया था। भारत ने पिछले साल आरआीसी (रूस, इंडिया, चीन) के विदेश मंत्रियों की बैठक में विंटर ओलंपिक को समर्थन दिया था।

लेकिन चीन ने विंटर ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों के साथ झड़प में जख्मी चीनी सैनिक को मशालवाहक बनाने का निर्णय लिया। चीन के इस फैसले के बाद भारत ने अपना फैसला बदल लिया और विंटर ओलंपिक का राजनयिक बहिष्कार करने की घोषणा की।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.