चीनी मोबाइल कंपनियों को लगा बड़ा झटका, ईडी ने 44 ठिकानों पर मारा छापा

Vivo ED Raid

नई दिल्ली: चीनी मोबाइल कंपनियां (Vivo ED Raid) को बड़ा झटका लगा है। भारत में चीनी मोबाइल कंपनियां आईटी और ईडी के रडार पर हैं। इससे पहले जांच एजेंसी ने FEMA के तहत Xiaomi के एसेट्स सीज किए थे आपको बता दें कि हाल ही में चाइना की Xiaomi कंपनी ने हाल ही में अपने बेहतरीन और स्मार्ट प्रोडक्ट्स को लॉन्च करने का ऐलान किया है तो ऐसे में कंपनी के लिए ये बेहद ही चुनौतीपूर्ण होने वाला है।

भारत में चीनी मोबाइल कंपनियां आईटी और ईडी के रडार पर

प्रवर्तन निदेशालय यानि (ईडी) ने मंगलवार को यूपी, एमपी और बिहार समेत देशभर में 44 ठिकानों (Vivo ED Raid) पर कई मोबाइल कंपनी पर छापेमारी की। हालांकि, कर्नाटक हाईकोर्ट ने इस पर रोक लगा दी थी। बताया जा रहा है कि ये छापेमारी चीनी मोबाइल कंपनी Vivo और उससे संबंधित फर्मों पर मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में की गई है। सीबीआई इस मामले में पहले से जांच कर रही है।

ईडी ने 44 ठिकानों पर मारा छापा

इसी साल मई में चीनी फर्म ZTE कॉर्प और वीवो (Vivo ED Raid) को वित्तीय नियमों का पालन ना कर के और नियमों का उल्लंघन करने को लेकर जांच का सामना करना पड़ा था। इसके अलावा Xiaomi Corp भी जांच के दायरे में है। दरअसल, भारत-चीन के बीच सीमा पर टकराव के बाद चीनी कंपनियों पर भारत सरकार ने इसपर सख्त ऐक्शन लिया है। तब से लगाकर अब तक टिकटॉक समेत 200 से भी ज्यादा मोबाइल ऐप बैन किए जा चुके हैं।

चीनी कंपनियों पर भारत सरकार का सख्त एक्शन

इससे पहले मोबाइल फोन निर्माता कंपनी वीवो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Vivo ED Raid) का गुरुग्राम स्थित एचएसबीसी बैंक का खाता अटैच कर राज्य वस्तु एवं सेवाकर (एसजीएसटी) विभाग ने 220.13 करोड़ रुपये की वसूली की थी। साल 2020 में नियमों का उल्लंघन कर रिटर्न दाखिल करने के दौरान 110.06 करोड़ रुपये अधिक इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) का लाभ लेने के मामले में यह कार्रवाई की गई है।

रिपोर्ट- अंजलि

Read Also:- अब बिना AC के घर होगा ठंडा! आईआईटी ने बनाया गजब का सिस्टम, जानें कैसे काम करता है रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम?

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.