विदेश मंत्री डॉक्टर एस. जयशंकर अपनी चार दिवसीय यात्रा पर किर्गिज़स्तान और आर्मीनिया के लिए होंगे रवाना

नई दिल्ली: विदेश मंत्री डॉक्टर एस. जयशंक (External Affairs Minister Dr. Jaishank) आज से अपनी चार दिवसीय यात्रा पर किर्गिज़स्तान (Kyrgyzstan) और आर्मीनिया (Armenia) के लिए रवाना होंगे। बता दें कि विदेश मंत्री के रूप में किर्गिज़स्तान की यह उनकी पहली यात्रा है। वह आज दो दिवसीय यात्रा पर किर्गिज गणराज्य पहुंचेंगे।

साथ ही वह विदेश मंत्री के साथ द्विपक्षीय बैठक के अलावा राष्ट्रपति (President) से भी मुलाकात करेंगे। इसी बीच दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर हस्‍ताक्षर होने की संभावना है। जिसके बाद विदेश मंत्री जयशंक कज़ाकस्तान (Kazakhstan) के लिए रवाना होंगे।

इसके बाद वे कज़ाकस्तान के नूर सुल्‍तान में एशिया में संपर्क और आपसी विश्‍वास बढ़ाने के उपायों पर गठित मंच की छठी मंत्रिस्‍तरीय बैठक में शामिल होंगे। मालूम हो कि कज़ाकस्तान (Kazakhstan) इस मंच के वर्तमान अध्‍यक्ष है और उन्होंने इसे स्थापित करने की पहल की है।

साथ ही विदेश मंत्री जयशंकर की कज़ाकस्तान के उप प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री के साथ-साथ अन्‍य नेताओं से भी मिलने की आशा है। जानकारी के अनुसार 12 और 13 अक्‍तूबर को विदेश मंत्री आर्मीनिया (Armenia) के दौरे पर रहेंगे। दरअसल आर्मीनिया के स्‍वतंत्र होने के बाद किसी भारतीय विदेश मंत्री की यह पहली यात्रा होगी।

मालूम हो कि विदेश मंत्री जयशंकर वहां के विदेश मंत्री के साथ बैठक के अलावी प्रधानमंत्री और आर्मीनिया की राष्‍ट्रीय संसद के अध्‍यक्ष से भी मुलाकात करेंगे। विदेश मंत्री ने बताया कि विदेश मंत्री जयशंकर की यात्रा तीनों देशों के साथ द्विपक्षीय संबंधों की प्रगति की समीक्षा का अवसर प्रदान करेगी।

जानकारी के मुताबिक उन्होंने आगे बताया है कि इसके साथ ही क्षेत्रीय विकास पर आपसी विचार भी साझा किए जाएंगे। यह यात्रा व्यापक पड़ोस के देशों के साथ संपर्क बढ़ाने के भारत (India) के जारी प्रयासों के तहत हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *