Advertisement

विदेश से आने वाली इलेक्ट्रिक कारें हो सकती हैं सस्ती, इम्पोर्ट ड्यूटी में कटौती करने पर विचार कर रही केंद्र सरकार

Share
Advertisement

भारत से आयातित इलेक्ट्रिक व्हीकल महंगे हो सकते हैं। केंद्रीय सरकार नई इलेक्ट्रिक व्हीकल कानून बनाने वाली है। अगले पांच वर्षों में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर लगने वाली इम्पोर्ट टैक्स में कमी हो सकती है।

Advertisement

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सरकार टेस्ला जैसी कंपनियों को देश में उत्पादन के लिए आकर्षित करने का प्रयास कर रही है। टेस्ला के एक प्रस्ताव के अनुसार, सरकार देश में कम से कम 40% व्हीकल उत्पादन करने वाले कारखानों के लिए आयात शुल्क कम कर सकती है।

केंद्रीय मंत्री गोयल अगले हफ्ते मस्क से मिलेंगे

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल हाल ही में अमेरिकी बिजनेसमैन एलन मस्क से मुलाकात कर सकते हैं। इस बैठक में इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी ‘टेस्ला’ की भारत में एंट्री का मुद्दा उठ सकता है।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों से कहा कि मस्क और गोयल की अमेरिका में होने वाली बैठक का मुख्य मुद्दा टेस्ला की भारत में एक फैक्ट्री बनाने की योजना होगी।

भारत में चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास भी चर्चा का विषय हो सकता है। रिपोर्ट में कहा गया कि भारत में बन रही नई पॉलिसी भी मीटिंग में चर्चा हो सकती है।

जनवरी 2024 तक सरकार मंजूरी दे सकती है

जनवरी 2024 तक सरकार टेस्ला को भारत में एक कारखाना बनाने की अनुमति दे सकती है। सरकारी विभाग इसके लिए तेजी से काम कर रहा है।

प्रधानमंत्री कार्यालय में हुई एक उच्चस्तरीय बैठक के बाद यह जानकारी सामने आई। इसमें देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग के अगले चरण की चर्चा हुई, जिसमें टेस्ला के निवेश प्रस्ताव भी शामिल था।

ये भा पढ़ें: 18 नवंबर तक मणिपुर में इंटरनेट बैन की अवधि बढ़ी, 195 दिनों तक प्रतिबंध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *