वाराणसी: ज्ञानवापी सर्वे मामले में आज आ सकता है बड़ा फैसला, अभी तक केवल 10% हुआ है परिसर में सर्वे का काम

Gyanvapi Survey Case

वाराणसी: वाराणसी के सिविल जज सीनियर डिविजन कोर्ट (Gyanvapi Survey Case) में आज कमिशन रिपोर्ट पेश होगा। सर्वेक्षण को लेकर आज कोर्ट का महत्वपूर्ण फैसला आ सकता है। अभी तक केवल 10% परिसर में सर्वे का कार्य हुआ है। इसके अलावा अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी की तरफ से कमिश्नर को बदलने के मामले में आज फिर सुनवाई होगी। अभी तक केवल काशी ज्ञानवापी परिसर में 6 मई को ढाई घंटे सर्वेक्षण का कार्य हुआ है। प्रतिवादी के विरोध के बाद सर्वेक्षण का पूरा कार्य नहीं हो सका है।

ज्ञानवापी सर्वे मामले में आज आ सकता है बड़ा फैसला

आज लगभग 2:00 बजे के बाद वाराणसी के सिविल जज सीनियर डिवीजन में कमीशन कार्रवाई की रिपोर्ट पेश होगी। इससे पहले 1996 में मिले काशी ज्ञानवापी सर्वेक्षण (Gyanvapi Survey Case) के आदेश को तब के नियुक्त कमिश्नर ने सुरक्षा दृष्टिकोण से खारिज कर दिया था। बता दें कि इस मामले में सिविल जज (सीनियर डिवीजन) रवि कुमार दिवाकर की अदालत फैसला सुनाएगी। ज्ञानवापी परिसर के सर्वे के लिए नियुक्त एडवोकेट कमिश्नर अजय कुमार मिश्र को लेकर प्रतिवादी अंजुमन इंतजामियां मसाजिद कमेटी ने अदालत में प्रार्थना पत्र दिया था।

अभी तक केवल 10% हुआ है परिसर में सर्वे का काम

इस मामले में मुस्लिम पक्ष (Muslim side) ने मामले की निष्पक्ष कार्रवाई करने की मांग की है और कोर्ट कमिश्नर को हटाने की मांग की है। लेकिन शनिवार को मुस्लिम पक्ष (Muslim side) की इस मांग को सिरे से खारिज कर दिया गया। दरअसल हिंदू पक्ष रोजाना पूजा करने की इजाजत चाहता है। क्योंकि उनका कहना है कि श्रृंगार गौरी की मूर्ति का अस्तित्व मस्जिद (Mosque) के अंदर हैं। इसी वजह से सर्वे टीम बार-बार मस्जिद (Mosque) के अंदर जाकर सर्वे और वीडियोग्राफी (Videography) करने की कोशिश कर रही थी। 

Read Also:- हिंदू संगठन के लोगों ने कुतुब मीनार पर आज हनुमान चालीसा का पाठ करने का किया ऐलान, बढ़ाई गई सुरक्षा 

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.