हिंदू संगठन के लोगों ने कुतुब मीनार पर आज हनुमान चालीसा का पाठ करने का किया ऐलान, बढ़ाई गई सुरक्षा 

हनुमान चालीसा को लेकर विवाद लगातार गहराता जा रहा है। अब हिंदू संगठन के लोगों ने कुतुब मीनार पर आज हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa Qutub Minar) का पाठ करने का ऐलान कर दिया है। कुतुब मीनार में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

Share This News
Hanuman Chalisa Qutub Minar

नई दिल्ली: हनुमान चालीसा को लेकर विवाद लगातार गहराता जा रहा है। अब हिंदू संगठन के लोगों ने कुतुब मीनार पर आज हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa Qutub Minar) का पाठ करने का ऐलान कर दिया है। कुतुब मीनार में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हिन्दू संगठनों को कहना है कि वहां मस्जिद में लगीं मूर्तियां को देखकर लोगों की भावनाएं आहत हो रही हैं इन्हें हटाया जाना चाहिए।

हिंदू संगठन का कुतुब मीनार पर हनुमान चालीसा का पाठ करने का ऐलान

बता दें कि कुतुबमीनार परिसर में स्थित कुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद के ढांचे में लगीं मूर्तियों को हटाने की मांग जोर पकड़ रही है। हिन्दू संगठनों को खासकर उल्टी लगीं भगवान गणेश की दो मूर्तियां (Hanuman Chalisa Qutub Minar) को लेकर अधिक नाराजगी है। इन संगठनों ने मांग की है कि मस्जिद के ढांचे पर लगीं सभी मूर्तियां निकालकर इन्हें प्रतिष्ठित किया जाए और उन्हें पूजा करने की अनुमति दी जाए।

उल्टी लगीं भगवान गणेश की दो मूर्तियां को लेकर अधिक नाराजगी

साथ ही हिन्दू संगठनों ने कुतुबमीनार का नाम विष्णु स्तंभ किए जाने की भी मांग उन्होंने उठा दी है। इन मांगों को लेकर यूनाइटेड हिन्दू फ्रंट के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जयभगवान गोयल ने अन्य हिन्दू संगठनों को साथ लेकर मंगलवार को कुतुबमीनार परिसर में हनुमान चालीसा पढ़ने का ऐलान कर दिया है।

मूर्ति मस्जिद की नाली के ठीक ऊपर उल्टी स्थिति में लगी

बता दें कि कुतुबमीनार परिसर में स्थित कुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद में पीछे की तरफ भगवान गणेश जी की दो मूर्तियां लगी हैं। एक मूर्ति मस्जिद की नाली के ठीक ऊपर उल्टी स्थिति में लगी है। इस मूर्ति को लोहे का जाल लगाकर ढंक रखा है। इससे कुछ दूरी पर गणेश जी की एक और मूर्ति उल्टी स्थिति में लगी है। विवादित ढांचे में मूर्तियों के माध्यम से है कृष्ण अवतार का वर्णन भी किया गया है ढांचे पर एक स्थान पर भगवान कृष्ण के अवतार का वर्णन मूर्तियों के माध्यम से किया गया है।

Read Also:- वाराणसी: ज्ञानवापी सर्वे मामले में आज आ सकता है बड़ा फैसला, अभी तक केवल 10% हुआ है परिसर में सर्वे का काम

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.