Udaipur Killing: उदयपुर हत्याकांड से एक हफ्ते पहले महाराष्ट्र में भी हुई थी नुपुर शर्मा के समर्थक की हत्या

नई दिल्ली। राजस्थान के उदयपुर में एक नुपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वाले एक टेलर की दिनदहाड़े हुई हत्या की घटना ने पूरे देश को चौंका दिया है। हालांकि, नुपुर शर्मा के किसी समर्थक की हत्या का यह पहला मामला नहीं है। कम से कम महाराष्ट्र की अमरावती पुलिस की जांच में जो बातें सामने आई हैं, उसके मुताबिक 21 जून को एक दवा विक्रेता की भी इसी तरह गला काटकर हत्या कर दी गई थी। वजह थी- नुपुर शर्मा के समर्थन में उसकी तरफ से किया गया पोस्ट। 

जांचकर्ताओं का मानना है कि अमरावती जिले में 54 साल के केमिस्ट उमेश प्रह्लादराव कोल्हे की साजिश के तहत जो हत्या हुई, वह पैगंबर पर नुपुर शर्मा के विवादित बयानों के समर्थन की वजह से हुई। उमेश के बेटे संकेत कोहले की तरफ से दर्ज शिकायत के बाद कोतवाली पुलिस ने जांच के आधार पर मामले में दो लोगों- मुदस्सिर अहमद (22) और शाहरुख पठान (25) को 23 जून को गिरफ्तार किया। दोनों से पूछताछ के बाद सामने आया कि उमेश की हत्या में चार और लोग शामिल थे। इनमें अब्दुल तौफिक (24), शोएब खान (22), आतिब रशीद (22) और शमीम फिरोज अहमद शामिल रहे। शमीम को छोड़कर बाकी सभी को गिरफ्तार कर लिया गया।

मामले में पुलिस को जो शिकायत दी गई है, उसमें कहा गया है कि घटना 21 जून को रात 10 से 10.30 बजे के बीच हुई, जब उमेश कोल्हे अपना मेडिकल स्टोर बंद कर के जा रहे थे। बेटा संकेत दूसरे स्कूटर से उनके साथ ही था। शिकायतकर्ता के मुताबिक, “जब हम प्रभात चौक की तरफ जा रहे थे, तब महिला कॉलेज न्यू हाई स्कूल के गेट के पास अचानक दो मोटरसाइकिल सवारों ने उमेश को रोक दिया। इसके बाद एक हमलावर ने उनके गले के बाईं तरफ चाकू से वार कर दिया।

इससे उमेश खून से लथपथ होकर सड़क पर ही गिर गए।” बेटे संकेत का कहना है कि इस घटना के बाद उसने मदद की आवाज लगाई और लेकिन हमलावर फरार हो चुके थे। आसपास के कुछ लोगों की मदद से उमेश को पास के ही एक्सॉन अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि, इलाज के दौरान ही उनकी मौत हो गई।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.