मुलायम की बहू बनीं भगवाधारी, बीजेपी में हुईं शामिल

अपर्णा यादव

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) ने आज बीजेपी की सदस्यता ले ली। अपर्णा 2017 में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के टिकट पर चुनाव लड़ चुकी हैं। बता दें कि अपर्णा का भाजपा में जाना सपा के लिए कितना बड़ा झटका है, इसे इसी बात से समझा जा सकता है कि एक दिन पहले ही अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इसे घर का मामला बताया था।

इस मामले पर अखिलेश यादव ने भाजपा को चिंता न करने को कहा था। अपर्णा पर सवाल पूछने पर मीडिया को भी अखिलेश ने निशाने पर ले लिया था। अखिलेश ने कहा था कि आप बीजेपी की तरफ से सवाल कर रहे हैं।

बीजेपी में शामिल होने के बाद अपर्णा ने कहा कि मैं हमेशा से प्रधानमंत्री मोदी से प्रभावित रहती थी। मैं बहुत-बहुत प्रभावित हूं प्रधानमंत्री की कार्यशैली से। मैं हमेशा से भारतीय जनता पार्टी की कार्यशैली से प्रभावित रही हूं। अपर्णा यादव ने बीजेपी की सदस्यता बीजेपी के राज्य इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) की मौजूदगी में ली।

बता दें कि अपर्णा यादव के बीजेपी में शामिल होने की खबरें पिछले कई दिनों से चल रही थी। हालांकि कई मौकों पर अखिलेश यादव ने इससे इंकार किया था और इसे परिवार का मामला बताया था। लेकिन आज अपर्णा यादव के बीजेपी में शामिल होने के बाद सभी सवालों और आशंकाओं पर पूरी तरह से विराम लग गया।

बता दें कि पिछले चुनाव में भी अखिलेश यादव परिवार में बिखराव हुआ था। जिसके बाद अखिलेश विपक्ष के निशाने पर आ गए थे। उनसे बार-बार शिवपाल यादव को लेकर सवाल पूछे जाते रहे थे। इस बार शिवपाल यादव का साथ तो मिला लेकिन परिवार की बहू अपर्णा विरोधी पार्टी में जा रही हैं। अपर्णा यादव को शिवपाल यादव ने भी सपा में रहने और पार्टी के लिए और काम करने की सलाह दी थी। यह भी कहा था कि काम करें और टिकट की उम्मीद नहीं करने की सलाह दी थी।

ऐसा माना जा रहा है कि अपर्णा यादव को बीजेपी लखनऊ कैंट से ही प्रत्याशी बना सकती है। लखनऊ कैंट की सीट भाजपा के लिए एक अनार सौ बीमार वाली सीट बन चुकी है। कई प्रत्याशियों ने खुलकर इस सीट पर दावेदारी ठोंक दी है। रीता बहुगुणा जोशी ने तो अपने बेटे को इस सीट से टिकट के लिए अपनी सांसद तक छोड़ने की बात कह दी है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.