केजरीवाल सरकार पिछले डेढ़ साल से रैन बसेरों में रहने वालों को दे रही दो वक्त का खाना – सत्येंद्र जैन

नई दिल्ली: दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि डुसिब द्वारा चलाए जा रहे हमारे सभी सेंल्टर्स में करीब 6 हजार लोग रह रहे हैं। उनमें दो वक्त का भोजन अक्षय पात्रा की तरफ से फ्री दिया जा रहा है। कोविड के दौरान करीब डेढ़ साल पहले सीएम अरविंद केजरीवाल ने आदेश दिए थे कि डुसिब के सभी सेल्टर्स में जितने भी बेघर लोग रहते हैं, उन सभी को दो वक्त का खाना सरकार की ओर से दिया जाए। तभी से सरकार की ओर से लगातार खाना दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मैं अक्षय पात्रा का तहे दिल से शुक्र गुजार हूं कि उन्होंने अब इस काम को अपने हाथ में लिया है। इनकी तरफ से सेल्टर होम में रहने वाले छह हजार बेघर लोगों के साथ ही दिल्ली सरकार के जो हॉस्पिटल बन रहे हैं, उन पर काम करने वाले करीब तीन हजार मजदूरों को भी खाने का इंतजाम किया गया है। सर्दियों में सेल्टर होम में रहने वालों की संख्या बढ़कर दोगुनी यानी 6 हजार से 12 हजार हो जाती है। इन्होंने उनके लिए भी खाने का पूरा इंतजाम करने के लिए कहा है।

अक्षय पात्रा फाउंडेशन के चेयरमैन मधु पंडित दासा ने कहा कि दिल्ली सरकार कोविड-19 महामारी के दौरान अपने नागरिकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए अथक परिश्रम कर रही है। विभिन्न चुनौतियों के बावजूद अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार द्वारा किए गए मानवीय प्रयास सराहनीय हैं। दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डुसिब) द्वारा शहर भर में स्थापित रैन बसेरे इन प्रयासों के उदाहरण हैं। रैन बसेरे बेघरों को मुफ्त आवास प्रदान करते हैं और उनकी भूख को भी मिटाते हैं।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.