भारत ने पहली बार जीता बैडमिंटन थॉमस कप, इंडोनेशिया को दी करारी हार

थॉमस कप को पहले तीन साल पर आयोजित किया जाता था, लेकिन 1982 में हुए फॉर्मेट में बदलाव के बाद यह दो साल पर आयोजित किया जाने लगा है। थॉमस कप को पुरुषों का विश्व टीम चैम्पियनशिप भी कहा जाता है।

Share This News
थॉमस कप

भारतीय पुरुष बैडिमिंटन टीम ने इतिहास रच दिया है। भारत ने इंडोनेशियाई दल को 3-0 से मात दी। टीम ने 73 साल में पहली बार थॉमस कप जीता, वो भी उस इंडोनेशिया को हराकर, जिसने 14 बार इस खिताब को हासिल किया है। भारत थॉमस कप खिताब जीतने वाला छठा देश बना है। भारत की तरफ से लक्ष्‍य सेन, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी व किदांबी श्रीकांत ने मैच जीतकर भारत को चैंपियन बनाया।

भारत इस टूर्नामेंट में पहली बार फाइनल खेल रहा था। 5 मैचों की इस जंग में भारत ने 2 सिंगल्स और एक डबल्स मैच जीता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय टीम को इस ऐतिहासिक जीत की बधाई दी है।

वहीं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने इसे अभूतपूर्व जीत बताते हुए भारतीय टीम के लिए 1 करोड़ रुपये के इनाम का एलान किया है।

फाइनल मुकाबले में पहला गेम हारने के बाद लक्ष्य ने शानदार वापसी करते हुए विश्व रैंकिंग में पांचवे नंबर के खिलाड़ी एंथनी गिंटिग को 8-21, 21-17, 21-16 से हरा दिया। इसके बाद हुए मेंस डबल्स मुकाबले में सात्विकसाइराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने इंडोनेशिया के मोहम्द अहसन और केविन संजया सुकामुलिजो को हरा दिया।

चिराग शेट्टी और सात्विक साईराज रंकीरेड्डी ने दूसरे गेम में वापसी करते हुए मोहम्मद अहसन और केविन संजया सुकामुलजो की जोड़ी को 23-21 से हराया। इसके बाद तीसरा गेम 21-19 से जीत कर मुकाबला अपने नाम कर लिया।

दो साल पर होता है टूर्नामेंट का आयोजन

थॉमस कप को पहले तीन साल पर आयोजित किया जाता था, लेकिन 1982 में हुए फॉर्मेट में बदलाव के बाद यह दो साल पर आयोजित किया जाने लगा है। थॉमस कप को पुरुषों का विश्व टीम चैम्पियनशिप भी कहा जाता है। बैडमिंटन की शासी निकाय ‘बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF) के सदस्य देश इसमें भाग लेते है।

इंडोनेशिया ने सबसे ज्यादा बार खिताब जीता

अब तक 32 बार थॉमस कप हुआ है और केवल पांच देश ही विजेता बन सके हैं। इंडोनेशिया थॉमस कप की सबसे सफल टीम है। अब तक 14 बार खिताब पर कब्जा जमाया है। 1982 से इस टूर्नामेंट में भाग ले रही चीनी टीम ने 10 और मलेशिया ने 5 खिताब जीते हैं। जापान और डेनमार्क दोनों के पास एक-एक खिताब है। थॉमस कप हमेशा एशियाई देशों ने जीता। 2016 में डेनमार्क यह खिताब जीतने वाली पहली गैर एशियाई टीम थी।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.