मैं अपने ‘बड़े भाई’ से 100-100 बार माफी मांगने को तैयार: हरक सिंह रावत

उत्तराखंड की सियासत

उत्तराखंड: रविवार देर रात उत्तराखंड की सियासत में तब भूचाल आ गया, जब उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य के मंत्री हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया है। बता दें बीजेपी विधायक हरक सिंह रावत को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया गया है।

अब कांग्रेस में शामिल होने की ख़बर पर पूर्व भाजपा नेता हरक सिंह रावत ने कहा है कि मेरी आज सुबह बातचीत हुई है वे (हरीश रावत) आगे बताएंगे कि क्या होगा। वे मेरे बड़े भाई हैं, मैं अपने बड़े भाई से 100 बार भी माफी मांग सकता हूं। कांग्रेस पार्टी का अपना निर्णय है। 2016 में परिस्थितियां अलग थीं।

पार्टी सभी पहलुओं को देखते हुए निर्णय लेगी: हरीश रावत

हरक सिंह के शमिल होने पर अब कांग्रेस में सस्पेंस दिखता नजर आ रहा है, माना जा रहा है कि हरीश रावत (Harish Rawat) समेत कई नेता हरक की कांग्रेस में वापसी पर नाखुश है। बता दें कि कल यानि सोमवार को हरक सिह रावत के कांग्रेस में शामिल (Harak joins Congress) होने के बयान पर कांग्रेस के नेता हरीश रावत ने अपना बयान दिया था। उन्होनें कहा था कि मैं इस विषय में कोई टिप्पणी नहीं करूंगा क्योंकि हरक सिंह जी ने मुझे ऐसा कुछ नहीं कहा है कि वो पार्टी में शामिल होना चाहते हैं। पार्टी सभी पहलुओं को देखते हुए निर्णय लेगी।

जब रो पड़े हरक सिंह रावत…

वहीं सोमवार को भाजपा से निष्कासन के बाद पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत रो पड़े और बीजेपी के खिलाफ तीखे तेवर भी दिखाए। हरक सिंह ने कहा कि उत्तराखंड में पूर्ण बहुमत की कांग्रेस सरकार आ रही है। जो नहीं भी आनी थी, अब पूरी तरह आ रही है। मैं कांग्रेस से बात करूंगा। कांग्रेस में जाऊंगा। नहीं तो कहीं नहीं जाऊंगा। बिना शामिल हुए भी काम करूंगा। निस्वार्थ काम करूंगा।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *