Blog नहीं रहे वर्ल्ड कप 1983 के ‘हीरो’ यशपाल शर्मा, हार्ट अटैक से हुआ निधन

नहीं रहे वर्ल्ड कप 1983 के ‘हीरो’ यशपाल शर्मा, हार्ट अटैक से हुआ निधन

Share Via

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज यशपाल शर्मा का निधन हो गया है। 66 वर्ष की उम्र में उन्होंने अपनी आखिरी सांस ली। बताया जा रहा है कि दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हुआ। वे भारत की 1983 में विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे। अंतरराष्ट्रीय एक दिवसीय क्रिकेट में कभी भी शून्य पर पवेलियन नहीं लौटने का उन्होंने अनोखा रिकॉर्ड बनाया था। क्रिकेटर के दिग्गज ने  अब हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। पारिवार के लोगों ने उनके निधन की जानकारी दी।

यशपाल शर्मा 1983 में कपिल देव की अगुवाई में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के मेंबर थे। वे 1983 वर्ल्ड कप (ICC World Cup 1983) में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी थे। उन्होंने 37 टेस्ट मैचों में 33.45 की औसत से 1606 और 42 वनडे मैचों में 28.48 की औसत से 883 रन बनाए थे।

यशपाल  ने 42 एकदिवसीय और 37 टेस्ट में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। वह 1979-83 तक भारतीय मध्य क्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे। उन्होंने कुछ वर्षों के लिए राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में भी काम किया और 2008 में उन्हें फिर से पैनल में नियुक्त किया गया था।

इंटरनेशनल क्रिकेट के अलावा यदि बात करे घरेलू क्रिकेट की तो उन्होंने वहां भी काफी रन बनाए। 160 फर्स्ट क्लास मैचों में 44.88 की औसत से उन्होंने  8933 रन बनाए। वहीं, 74 लिस्ट ए मैचों में 34.42 की औसत से 1859 रन बनाए।

यशपाल शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में 1979 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था, जबकि 1983 में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था। यशपाल शर्मा ने 1978 में वनडे डेब्यू किया था और 1985 में अपना आखिरी वनडे मैच खेला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें