UNGA महासभा : भारत के प्रथम सचिव मिजिटो विनिटो ने पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए कही ये बातें

संयुक्त राष्ट्र महासभा(UNGA) में भारत ने एक बार फिर पाकिस्तान को लताड़ लगाई है। संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत मिशन के प्रथम सचिव मिजिटो विनिटो ने UNGA में भारत के जवाब को अधिकार तरह से प्रयोग करके पाकिस्तान को घेरा और कहा कि पाकिस्तान के पीएम ने इस सभा में भारत के ऊपर झूठे आरोप लगाए है। अपने देश का दुष्कर्म छिपाने के लिए और भारत के खिलाफ कार्रवाई को सही ठहराने के लिए ऐसा किया।

भारत के प्रथम सचिव मिजिटो विनिटो ने UNGA सम्मेलन में पाकिस्तान को लगाई लताड़

भारत के प्रथम सचिव मिजिटो विनिटो ने UNGA सम्मेलन में पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए कहा कि जो देश ये दावा करती है कि वह अपने पड़ोसियों के साथ शांति चाहता है, लेकिन ये बाते महज बातें ही होती हैं। हमेशा हर समय शांति और युद्ध न लड़ने की बात कहना वाला पाकिस्तान कभी भी सीमा पार आतंकवाद को प्रायोजित नहीं करेगा और न ही मुंबई आतंकवादी हमले के योजनाकारों को आश्रय देगा। शांति की बात करके आतंकवाद फैलाना आपका काम है।’

मिजिटो ने पाकिस्तान पर किए तीखे शब्दों के वार

मिजिटो ने कहा जो दूसरे पर आरोप लगाता है वो खुद पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखे कि जम्मू-कश्मीर पर दावा करने के बजाय इस्लामाबाद को सीमा पार आतंकवाद को रोकना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘जब अल्पसंख्यक समुदाय की हजारों की संख्या में युवा महिलाओं को एसओपी के रूप में अपहरण कर लिया जाता है, तो हम इस मानसिकता के बारे में क्या निष्कर्ष निकाल सकते हैं?’ मिजिटो ने पाकिस्तान पर वार करते हुए याद दिलाया कि कैसे उन्होनें अल्पसंख्यकों के खिलाफ जारी अत्यचारों के खिलाफ की याद विश्व को याद दिलाई।

मिजिटो यहीं चुप नहीं रहे उन्होनें पाकिस्तान पर आरोप लगाते हुए कहा कि पाकिस्तान में हिंदू, सिख और ईसाई परिवारों की लड़कियों के जबरन अपहरण और शादी की हालिया घटनाओं का जिक्र किया। पाकिस्तान में जबरन धर्मांतरण की घटनाएं भी सबके सामने हैं। राजनयिक ने कहा कि यह मानवाधिकार, अल्पसंख्यक अधिकारों और बुनियादी शालीनता से जुड़ा मामला है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *