पंजाब सरकार ने घटाई बिजली दरें, सिद्धू बोले चुनाव से ठीक पहले लॉलीपॉप क्यों?

Navjot Singh Sidhu

Navjot Singh Sidhu/ ANI

चंडीगढ़: पंजाब के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर अपने बयान को लेकर चर्चा में हैं। सोमवार को सिद्धू ने संयुक्त हिन्दू महासभा के एक आयोजन में बिना किसी का नाम लिए इशारों-इशारों में कहा लोगों को वोट एजेंडे पर करना चाहिए लॉलीपॉप पर नहीं।

दरअसल पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने हाल ही में सरकारी कर्मचारियों का बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता और घरेलू बिजली दरों में तीन रूपये की कटौती जैसे फैसले किए हैं।

मेरे लिए ये धर्म की लड़ाई है, ये धर्मयुद्ध है। मुझे पता है कि इस धर्मयुद्ध में मैं हार नहीं सकता। अगर मेरा सब कुछ भी चला गया तो गलियों-मुहल्लों में खड़ा होकर बोलूंगा – पंजाब के लोगो इसबार वोट एजेंडे पर करना, लॉलीपॉप पर नहीं। अपने आख़िरी दो महीनों में लोगों को लॉलीपोप दिए जाते हैं पर सवाल ये है कि सरकार ये सब देगी कहां से?

नवजोत सिंह सिद्धूपंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

पंजाब में पिछले कुछ महीनों से खींचतान जारी है। पहले नवजोत सिंह सिद्धू और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तल्खियों की वजह से राज्य में पार्टी में घमासान चलता रहा।

उसके बाद नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के कुछ फैसलों से नाराज़ होकर सिद्धू ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया और उन्हें मनाकर वापस से पार्टी के पद पर बरकरार रखा गया।

सोमवार को सिद्धू ने संयुक्त हिन्दू महासभा के आयोजन में कहा चाहे उनका सब कुछ लुट जाए लेकिन वो पंजाब को असली मुद्दों से भटकने नहीं देंगे।

भाषण के आखिर में उन्होंने हाई कमान से सही नेता चुने जाने की भी बात कही।

सिद्धू ने कहा, फैसला इसी अदालत में होगा। ये मत सोचना कि गुरू इंसाफ नहीं करते, गरू इंसाफ करते हैं, इसलिए सरकार बदली है। असली पार्टी कार्यकर्ता रेत में आभूषण की तरह होते हैं। उन्हें पंजाब के ताज पर सजाओ।

आखिर में मैं सिर्फ इतना ही कहूंगा, मैं हूं न।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *