Advertisement

Uttarakhand: जी-20 में आए डेलीगेट्स हुए उत्तराखंड के मुरीद

0
Share
Advertisement

G-20 बैठक में शामिल होने आए विदेशी डेलीगेट्स ने उत्तराखंड में हुई मेहमानवाजी की जमकर तारीफ की। विदेशी मेहमानों ने राज्य के प्राकृतिक सौंदर्य और संस्कृति की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हें यहां घर जैसा महसूस हुआ। डेलीगेट्स ने कहा कि वो भविष्य में यहां दोबारा जरूर आना चाहेंगे।

Advertisement

टिहरी का नरेंद्रनगर तीन दिनों तक जी-20 बैठक में आए विदेशी मेहमानों से गुलजार रहा। बैठक में जी-20 समूह के सदस्य देशों के 90 डेलीगेट्स ने बैठक में हिस्सा लिया। जी- 20 के एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की दूसरी बैठक में शामिल होने आए विदेशी डेलीगेट्स, उत्तराखंड में हुए आवभगत से भाव विभोर नजर आए। बैठक के बाद विदेशी मेहमानों ने ओणी गांव का दौरा किया।

जहां डेलीगेट्स ने गांव में हुए विकास के कामों और स्कूली शिक्षा व्यवस्था को देखा। यहां भी ग्रामीणों ने डेलीगेट्स का आत्मीयता के साथ स्वागत किया। जिससे विदेशी मेहमान अभिभूत नजर आए। डेलीगेट्स ने भी ग्रामीणों के साथ राज्य के ग्रामीण जीवन को देखा और गांव में वृक्षारोपण भी किया। डेलीगेट्स ने कहा कि उत्तराखंड आकर उन्हें घर जैसा महसूस हुआ। डेलीगेट्स ने कहा कि इस बार वो बैठक में शामिल होने आए, लेकिन अगली बार पर्यटक के रूप में यहां आना चाहेंगे।

विदेशी मेहमानों ने राज्य की सांस्कृतिक विरासत और स्थानीय उत्पादों की भी दिल खोल कर प्रशंसा की। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि राज्य में हो रहे जी-20 के आयोजन देवभूमि की दुनिया में विशिष्ट पहचान बनाने का सुनहरा अवसर हैं। और विदेशी डेलीगेट्स के अनुभव से ये साफ हो गया है कि उत्तराखंड में हुई बैठकें इस लक्ष्य को पूरा करने में सफल रही हैं।

ये भी पढ़ें:Uttarakhand: नरेंद्रनगर में G-20 की 3 दिवसीय बैठक का हुआ समापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *