Advertisement

Uttar Pradesh: Atiq Ahmed का परिवार सबसे ‘वांटेड’ क्यों?

Share
Advertisement

माफिया से राजनीति में कदम रखने वाला डॉन अतीक अहमद (Atiq Ahmed) का परिवार उत्तर प्रदेश में सबसे वांटेड परिवार है। आपको ये जैनकर हैरानी होगी कि परिवार के सभी सदस्यों पर प्रयागराज के कई पुलिस थानों में कुल 165 आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसमें से अतीक के नाम पर 100 केस दर्ज हैं। इनमें से 50 मुकदमे ट्रायल में हैं, 12 में अतीक बरी हो चुका है। आपको बता दें कि एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि कई मामलों में गवाहों के बयान का इंतजार है।

Advertisement

वहीं, माफिया के भाई अशरफ पर 53 केस दर्ज हैं। एक में वो बरी हो चुका है, जबकि अन्य ट्रायल पर है। उसे 1992 के दंगों के एक केस में 4 जनवरी 2000 को बरी कर दिया गया था। बाकी 52 मामलों में सुनवाई चल रही है।

अतीक के बेटों के खिलाफ आठ मामले दर्ज हैं। अतीक की पत्नी शाइस्ता पर 4 केस दर्ज हैं। इसमें से तीन मामलों में सुनवाई चल रही है, जिनमें अतीक की पत्नी अभी पेश नहीं हुई हैं। जबकि एक मामले में पुलिस की जांच लंबित है।

एडिशनल डीजी (अभियोजन) आशुतोष पांडेय ने ये जानकारी दी है कि अतीक अहमद के खिलाफ 12 मामलों में आरोप तय किए जाने हैं। इसके लिए संयुक्त अभियोजन निदेशक को ऐसे मामलों में तेजी लाने को कहा गया है।

IS-227 में शामिल होगा Atiq Ahmed का परिवार

आपको बता दें कि माफिया से नेता बने अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन और उनके तीन बेटों को अब पुलिस रिकॉर्ड में IS-227 के रूप में दर्ज उसके गिरोह के सदस्यों के रूप में नामित किए जाने की ख़बर सामने आई थी। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, शाइस्ता परवीन इस गिरोह की सदस्य के तौर पर शामिल होने वाली पहली महिला होंगी। प्रयागराज पुलिस ने बसपा शासन के दौरान अतीक के गिरोह का चार्ट तैयार किया था, जिसे आईएस-227 नाम दिया गया था।

गौरतलब है कि ये पहली बार होगा जब किसी राजनीतिक माफिया का पूरा परिवार अंतरराज्यीय गैंग की लिस्ट में शामिल होगा। अब तक, अतीक के छोटे भाई और पूर्व विधायक खालिद अज़ीम उर्फ ​​अशरफ, परिवार के एकमात्र सदस्य थे, जिनका नाम IS-227 गिरोह के सदस्य के रूप में दर्ज किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *