Advertisement

यूपी मदरसा बोर्ड के चेयरमैन ने योगी सरकार से जांच का आदेश वापस करने की मांग की, बताई ये वजह

Share
Advertisement

उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष ने योगी सरकार से बड़ी अपील की है। मदरसों की जांच को स्थगित करने की मांग करते हुए उन्होंने अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री धर्मपाल को पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने अनुदानित और मान्यता प्राप्त मदरसों की जांचों को स्थगित करने की मांग की है।

Advertisement

मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. इफ्तिखार अहमद जावेद ने कहा कि जांच से मदरसों की पढ़ाई प्रभावित हो सकती है। चेयरमैन ने सामान्य लोकसभा चुनाव भी बताया है। चेयरमैन ने कहा कि जांच प्रक्रिया काम को और देर कर सकती है।

मदरसा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. इफ्तिखार अहमद जावेद ने  चिट्ठी में लिखा- मेरे संज्ञान में आया है कि रजिस्ट्रार, उ०प्र० मदरसा शिक्षा परिषद, लखनऊ द्वारा प्रेषित प्रस्ताव पर निदेशक, अल्पसंख्यक कल्याण, उ०प्र० ने राज्यानुदानित मदरसों एवं स्थाई मान्यता प्राप्त मदरसों की जाँच के आदेश निर्गत किये है। जबकि अभी मदरसों में पिछले वर्ष 2023 परीक्षा के कम्पार्टमेन्ट, सन्निरीक्षा, परीक्षा केन्द्रों पर अनुपस्थित अभियर्थियों के परीक्षाफल घोषित किये जाने की कार्यवाही मदरसा, जनपद, परिषद मुख्यालय पर गतिमान है. ऐसी स्थिति में मदरसों में जाँच सम्बन्धी कार्य किये जाने के फलस्वरूप उक्त परीक्षा सम्बन्धी महत्पूर्ण कार्य तथा पठन-पाठन प्रभावित होने की प्रबल सम्भावना है।’

ये भी पढ़ें: यूपी के नौ जिलों में बारिश की चेतावनी, मिचौंग के असर से थमी बारिश, 4 दिन तक तापमान में होगी बढ़ोतरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें