Advertisement

Swami Prasad Maurya: रामलला पर बोल बूरे फंसे ‘स्वामी प्रसाद मौर्य’, पार्टी के ही वरिष्ठ नेता ने बताया BJP का एजेंट

swami-prasad-maurya-controversal-statement-on-ram-mandir-pran-pratishtha-news-in-hindi
Share
Advertisement

Swami Prasad Maurya: 22 जनवरी को राम मंदिर में हुई रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर विवादित बयान देकर एक बार फिर देश को सौहार्द खराब करने वाले समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) अब रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर सवाल उठाकर अपनी ही पार्टी के निशाने पर आ गए हैं। जहां अखिलेश यादव की सपा पार्टी के एक बड़े नेता ने स्वामी प्रसाद मौर्य की क्लास लगाते हुए सपा प्रमुख से बड़ी मांग की है।

Advertisement

अपनी ही पार्टी के निशाने पर आए स्वामी प्रसाद मौर्य

स्वामी के विवादित बयानों ने एक बार फिर से यूपी का सियासी पारा चढ़ा दिया है, लगातार सनातन धर्म और हिंदू देवी-देवताओं पर विवादित बयान देना अब सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य को भारी पड़ गया है क्योंकि सपा प्रमुख अखिलेश यादव के एक करीबी नेता ने स्वामी मौर्य पर तीखा हमला बोलते हुए यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बड़ी मांग की है।

बता दें कि सपा के वरिष्ठ नेता आईपी सिंह का कहना है कि बीजेपी के इशारे पर स्वामी प्रसाद मौर्य बयानबाजी कर रहे हैं, आईपी सिंह ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए सपा प्रमुख से स्वामी प्रसाद मौर्य को पार्टी से निष्कासित करने की मांग की है।

स्वामी प्रसाद मौर्य है BJP का एजेंट – सपा नेता आईपी सिंह

लाख बार समझाने के बाद भी हिंदू धर्म पर विवादित बयान देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य को इस बार उनकी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता आईपी सिंह ने बुरी लताड़ लगाई है। बता दें कि समाजवादी के सीनियर लीडर आईपी सिंह ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य बीजेपी के इशारे पर ये सारी बयानबाजी कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि ऐसे बयान स्वामी प्रसाद मौर्य बयान देते हैं लेकिन मीडिया इसका सारा ठीकरा हमारी समाजवादी पार्टी पर फोड़ती है। आईपी सिंह ने कहा कि मौर्य ने तो हम सभी के आराध्य प्रभु राम तक को नहीं छोड़ा. इससे साफ पता चलता है कि स्वामी प्रसाद मौर्य बीजेपी का एजेंट बनकर काम कर रहे हैं।

बता दें कि अखिलेश यादव के करीबी नेता कहे जाने वाले आईपी सिंह ने आगे कहा कि स्वामी प्रसाद की बेटी राम मंदिर जाकर और पिता उलूल-जुलूल बयान देकर बीजेपी की मदद कर रहे हैं। जिसके बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता ने अखिलेश यादव से मांग की कि बीजेपी के एजेंट स्वामी प्रसाद मौर्य को बिना देर किए पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएं।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर क्या कहा?

बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने फिर से अपने विवादित बयान में  इस बार राम मंदिर में हुई रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह पर बोला, स्वामी ने कहा कि अपने परिवार में मरने वालों की लाशों में प्राण प्रतिष्ठा कर दो, वो अमर हो जाएंगे. यदि प्राण प्रतिष्ठा करने से पत्थर सजीव हो जाए, तो कोई जीवित क्यों नहीं हो सकता. जो खुद भगवान हैं, सबका कल्याण करते हैं. हम इंसान की क्या हैसियत उनकी प्राण प्रतिष्ठा कर सके. ये सब ढोंग और आडम्बर है।

ये भी पढ़ें- https://hindikhabar.com/state/uttar-pradesh/ram-mandir-timing-changed-and-up-govt-appealed-vvip-to-not-come-to-ayodhya-for-10-days-in-hindi/

Follow Us On: https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें