Advertisement

UP News:राम-राम बोलने पर स्कूल ने लगाई रोक!, जमकर लगे नारे, हुआ हंगामा, हनुमान चालीसा का किया पाठ

school stopped student for chanting ram-ram in school-hanuman chalisa recited at school gate-viral video news in hindi
Share

UP News

Advertisement

हाथरस(UP News) में स्तिथ एक प्राइवेट स्कूल से बड़ी जानकारी सामने आई है। आपको बता दें कि कुछ छात्रोें ने स्कूल प्रशासन की शिकायत अपने परिजनों से की। जिसके बाद मामला तूल पकड़ना शुरु हो गया। वहीं इस मामले में डीएम ने दो सदस्यों की कमेटी का गठन किया है।

Advertisement

छात्रों ने लगाया स्कूल प्रशासन पर आरोप

स्कूल में कुछ छात्रों द्वारा राम-राम बोलने पर शिक्षकों ने इसपर रोक लगाई। इसपर छात्रों ने अपने परिजनों से इस मामले को लेकर शिकायत की जिसके बाद स्कूल के मुख्य गेट के बाहर जमकर हनुमान चालीसा का पाठ और प्रदर्शन किया गया था। मामले की सूचना मिलने पर अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी इस पूरे मामले की छानबीन में जुट गए हैं। इस स्कूल का वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहा है। जिसके बाद अधिकारी समेत सब लोग सतर्क नजर आ रहे हैं।

जानें क्या है मामला

कुछ बच्चों द्वारा अपने परिजनों से शिकायत करते हुए स्कूल प्रशासन पर यह आरोप लगाया गया कि स्कूल में उन्हें राम-राम बोले जाने से रोका जाता है। जिसके बाद स्कूल प्रशासन के खिलाफ खूब हंगामा होने लगा। इस मामले में शनिवार सुबह विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के अधिकारी का कार्यकार्ता इक्ट्ठा होते हुए स्कूल पहुंच गए। जिसके बाद स्कूल के मुख्य गेट के बाहर जमकर हनुमान चालीसा का पाठ करते हुए प्रदर्शन और नारेबाजी की गई थी।

इस स्कूल का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसके बाद छात्र और अभिभावकों से सवाल किए गए। जिसे लेकर बच्चे और उनके अभिभावक दोनो ही मुकर गए। हालांकि इस मामले में कलेक्ट्रेट की ओर से दो दिन में जांच रिपोर्ट सौंपे जानी की भी जानकारी सामने आई है।

अधिकारी ने दी जानकारी

इस मामले में SSP अशोक कुमार सिंह की ओर से जानकारी सामने आई है कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें एक छात्र को राम ना बोलने को लेकर उस छात्र को निषकासित करने की बात कही गई थी। वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में तुरंत एक्शन लिया गया। जिसके बाद थाना प्रभारी को तुरंत मौके पर भेज दिया गया था। मौके पर पहुंच कर थाना प्रभारी ने सभी पक्षों की बात को सुना। हलांकि इस घटना के बाद परिजनों द्वारा मामले पर साफ इंकार कर दिया है। जिसकी लिखित में बाबत पुलिस को दिया गया है। इस मामले की निष्पक्ष जांच हो इसलि डीएम की ओर से दो अधिकारियों की जांच कमेटी का भी गठन किया गया है।

यह भी पढ़े:UP Politics: मायावती का बड़ा ऐलान! भतीजे को घोषित किया पार्टी का उत्तराधिकारी

Follow Us On:https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *