Advertisement

समीक्षा बैठकः हरियाली बढ़ाने और जल संचयन पर जोर

Review Meeting

Review Meeting

Share
Advertisement

Review Meeting: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 1 अणे मार्ग स्थित ‘नेक संवाद’ में जल संसाधन विभाग की समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में जल संसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से विभाग के वर्तमान कार्यों एवं प्रस्तावित नई कार्य योजनाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।

Advertisement

Review Meeting: नहर उन्नयन कार्यों की दी जानकारी

बैठक में अभियंता प्रमुख (सिंचाई) ईश्वर चंद्र ठाकुर ने नहर उन्नयन कार्य की जानकारी दी। उन्होंने नहरों तथा नदी तटबंधों पर सड़क संपर्क, कृषि उत्पादन को बाजार सुलभता, हरित ऊर्जा उत्पादन, हरियाली बढ़ाने को लेकर और पुनपुन बराज योजना के संबंध में जानकारी दी।

Review Meeting: सौर ऊर्जा को दें बढ़ावा- सीएम नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री ने कहा कि सात निश्चय पार्ट-2 के अन्तर्गत हर खेत तक सिंचाई पहुंचाने के कार्य में तेजी लाएं। किसानों को सिंचाई का प्रबंध होने से उन्हें कृषि कार्य में काफी सहूलियत होगी। सीएम ने कहा कि चतुर्थ कृषि रोड मैप में कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों के विकास के लिये विस्तृत योजना बनाई गई है। नदी तटबंधों पर हरित आवरण को बढ़ावा दें। वहां सोलर प्लेट लगाएं ताकि सौर ऊर्जा को बढ़ावा मिले।

Review Meeting: ‘करें ऐसी व्यवस्था कि अंतिम छोर तक पहुंचे पानी’

उन्होंने कहा कि ऐसी व्यवस्था करें कि अंतिम छोर तक पानी पहुंचे और सिंचित क्षेत्र में बढ़ोतरी हो। प्रस्तावित नई कार्य योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण आवश्यक है। जल संचयन वृद्धि के लिए बनाई गई योजनाओं पर तेजी से काम करें। पहाड़ी के तलहट्टी क्षेत्रों में भी जल संचयन क्षेत्र को विकसित करें।

Review Meeting: प्रमुख मंत्री और अधिकारी रहे मौजूद

बैठक में जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, विकास आयुक्त विवेक कुमार सिंह, जल संसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस, ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव पंकज कुमार पाल, अभियंता प्रमुख (सिंचाई) ईश्वर चन्द्र ठाकुर, जल संसाधन विभाग के सलाहकार रविन्द्र शंकर सहित अन्य वरीय अधिकारी एवं अभियंतागण मौजूद थे।

रिपोर्टः सुजीत श्रीवास्तव, ब्यूरोचीफ, बिहार

ये भी पढ़ें: सस्ती लोकप्रियता के लिए गिरिराज दे रहे घटिया बयान- उमेश सिंह कुशवाहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *