Advertisement

LJP(R) के 22 नेताओं ने दिया पार्टी से इस्तीफा, बोले…मोदी से बैर नहीं, चिराग की खैर नहीं

Resign from LJP(R)

Resign from LJP(R)

Share
Advertisement

Resign from LJP(R): एनडीए के प्रमुख घटक दल में से एक लोजपा (रामविलास) यानी चिराग पासवान की पार्टी में भगदड़ मच गई है. पार्टी से एक साथ 22 नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है। इनमे राष्ट्रीय से लेकर प्रदेश स्तर तक के नेता शामिल हैं। इन सभी नेताओं ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपने इस निर्णय की जानकारी दी। नेताओं ने आरोप लगाया की टिकट वितरण में करवट और योग्य कार्यकर्ताओं की पूरी तरीके से उपेक्षा की गई है। जिससे आहत होकर यह लोग इस्तीफा दे रहे हैं। इन सभी ने स्पष्ट रूप से आरोप लगाया की टिकट वितरण में करोड़ों रुपए का खेल किया गया है।

Advertisement

इन लोगों ने दिया इस्तीफा

पार्टी और सदस्यता से त्याग पत्र देने वालों की सूची में रेणु कुशवाहा, पूर्व मंत्री पूर्व लोकसभा सदस्य एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, सतीश कुमार, पूर्व विधायक एवं राष्ट्रीय महासचिव, इं० रविन्द्र सिंह, प्रदेश संगठन सचिव, अजय कुशवाहा, मुख्य पार्टी विस्तारक, संजय सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष, राजेश डांगी, प्रदेश महासचिव, डॉ० सुधीर यादव, कला संस्कृति एवं क्रीड़ा खेल प्रकोष्ठ अध्यक्ष, डॉ अजय कु० यादव, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष, प्रो० विनित सिंह, प्रदेश प्रवक्ता, रंजन पासवान, प्रदेश सचिव, अवध बिहारी कुशवाहा, प्रदेश सचिव, संजय लाल, प्रदेश सचिव, बिपिन पटेल, प्रदेश सचिव, शंभू पहाड़िया, प्रदेश महासचिव अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ,  शैलेन्द्र कुमार, राज्य किसान प्रकोष्ठ, अशोक मंडल, राज्य उपाध्यक्ष अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ, अजीत कुशवाहा, प्रदेश महासचिव युवा प्रकोष्ठ, राज सिन्हा, प्रदेश महासचिव युवा प्रकोष्ठ, अभिनव पटेल, सचिव प्रदेश युवा प्रकोष्ठ, सुरेन्द्र सिंह चंद्रवंशी, राज्य उपाध्यक्ष अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ, चित्तरंजन कुमार प्रदेश महासचिव और रंजीत कुशवाहा प्रदेश उपाध्यक्ष शामिल हैं।

‘हमारे साथ हुआ धोखा’

प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन सभी नेताओं ने कई पन्नों में पार्टी के विस्तार और पार्टी में टिकट वितरण से लेकर इन नेताओं के बीच हुए वार्तालाप को भी उपलब्ध कराया। इन सभी नेताओं का स्पष्ट रूप से कहना था कि उनके साथ धोखा किया गया है। सभी नेता आज सामूहिक रूप से इस्तीफा दे रहे हैं। चिराग पासवान ने जिन-जिन जगहों पर अपने उम्मीदवारों को उतारा है वहां उन उम्मीदवारों को हराने की पूरी कोशिश करेंगे। लेकिन हमारी पूरी कोशिश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत करने की है।

‘पैसे लेकर दी जा रही टिकट’

पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा ने आरोप लगाया कि टिकट लेकर के पैसे दिए जा रहे हैं। इस बारे में हम लोगों को कोई जानकारी नहीं थी। हमलोग को यह कहा गया था कि सीट मिलेगी तो आप लोगों को टिकट जरूर मिलेगा। सीट मिलेगी तो पार्टी के कार्यकर्ताओं को ही टिकट मिलेगा। पांच सीटें मिलीं। नवादा सीट नहीं मिली, इसलिए अरुण जी को टिकट नहीं मिला। हाजीपुर से खुद चुनाव लड़ रहे हैं। जमुई से बहनोई को चुनाव लड़ा रहे हैं। इसका मतलब पार्टी में योग्य उम्मीदवार नहीं है।

‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को करेंगे सपोर्ट’

रेणु कुशवाहा ने कहा कि अगर योग्य उम्मीदवार नहीं होते तो आपको बैठकर के समझा देना चाहिए था कि आप सब पार्टी में रहने के काबिल नहीं है। आप लोगों में लोकसभा जाने की योग्यता नहीं है। तब भी हम लोगों को संतोष हो जाता है। आपने बिना किसी भी प्रकार की जांच किए टिकट दे दिया। इन लोगों के पास पैसा है जो पैसे लेकर के आएगा। वो टिकट पाएगा. हम लोग पीएम मोदी को सपोर्ट करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हमें कोई बैर नहीं है लेकिन गलत करने वालों का विरोध करेंगे। अभी हमारा मन बहुत दुखी है। जिस सीढ़ी से चढ़कर हम लोग यहां तक पहुंचे उसको ही काट दिया गया।

‘पूरी प्लानिंग से किया गया खेला’

इस्तीफा देने में रविंद्र सिंह ने कहा कि हम लोगों के साथ पूरी प्लानिंग के साथ खेल किया गया। पार्लियामेंट बोर्ड के द्वारा पार्टी की तरफ से दो-दो नाम पर सहमति बनी। उनमें यह सारे नाम का ही नहीं थे। हम लोगों को लगातार अंधेरे में रखा गया। हम लोगों को सांत्वना दी गई। आज गद्दारों को टिकट दिया जा रहा है। अशोक चौधरी, जिन्होंने पार्टी के विरुद्ध काम किया उनको टिकट दिया जा रहा है। सोने चांदी का व्यापारी जिसके ऊपर सीबीआई, आईटी की रेड पड़ चुकी है, उसे टिकट दिया जा रहा है। मीडिया में हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा उसे प्रत्याशी की छवि को सुधारने का काम किया जा रहा है लेकिन जनता बेवकूफ नहीं है। रविंद्र सिंह ने कहा कि इन पांच सीटों पर हराने के लिए जनता के बीच में जाएंगे बाकि जनता की मर्जी। हम लोग नरेंद्र मोदी के साथ हैं।


रिपोर्टः सुजीत श्रीवास्तव, ब्यूरोचीफ, बिहार

यह भी पढ़ें: Jharkhand: मौसेरे भाई ने किया रिश्ते को तार-तार, बहन से रेप की कोशिश और फिर…

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें