Advertisement

अमृतपाल को ISI ने ऐसे किया तैयार, इंटरनेट सेवाएं बंद

Share
Advertisement

पंजाब दे संगठन के चीफ अमृतपाल सिंह और उसके समर्थकों के खिलाफ ताबड़तोड़ एक्शन जारी हैं। अब तक अमृतपाल सिंह के 112 समर्थक और करीबियों को गिरफ्तार किया गया है, हालांकि, वह खुद फरार हो गया।
पंजाब पुलिस की कई टीमें भगोड़े अमृतपाल सिंह की तलाश में जुटी हैं। पंजाब में इंटरनेट सेवाओं पर लगा बैन मंगलवार, 21 मार्च तक बढ़ा दिया गया है। पंजाब के क्षेत्र में सभी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं, सभी SMS सेवाएं (बैंकिंग और मोबाइल रिचार्ज को छोड़कर) और वॉयस कॉल को छोड़कर मोबाइल नेटवर्क पर प्रदान की जाने वाली सभी डोंगल सेवाएं 21 मार्च (12:00 घंटे) तक निलंबित रहेंगी।

Advertisement

आपको बता दें कि अमृतपाल सिंह वारिस पंजाब दे संगठन का प्रमुख है। इसे अभिनेता दीप सिद्धू ने बनाया था। दीप सिद्धू की पिछले साल फरवरी में सड़क हादसे में मौत हो गई थी। दीप सिध्दू लाल किला हिंसा का आरोपी भी था। दीप सिध्दू की मौत के बाद दुबई से लौटे अमृतपाल सिंह ने संगठन की कमान संभाली। दीप सिध्दू की मौत के बाद वारिस पंजाब द वेबसाइट बनाई और लोगों को जोडना शुरू कर दिया।

पिछले महीने ही अमृतपाल और उनके साथियों ने पंजाब के अजनाला में हथियारों से लैस होकर थाने पर हमला कर दिया था। उसके समर्थकों ने अपहरण और दंगों के आरोपियों में से एक तूफान की रिहाई को लेकर पुलिस स्टेशन पर धावा बोला था। इस दौरान छह पुलिसकर्मी घायल हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें