सांसद Simranjit Singh Mann का ट्वीटर अकाउंट सस्पेंड, अमृतपाल के एनकाउंटर की जताई आशंका

Share

केंद्र सरकार ने खालिस्तानी समर्थक और पंजाब की संगरूर सीट से सासंद सिमरनजीत मान पर कार्रवाई की है। केंद्र ने सासंद सिमरनजीत मान का ट्वीटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि सिमरनजीत मान वारिस पंजाब दे के मुखिया और खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह का खुले तौर पर समर्थन करते हैं। उनके ट्वीटर अकाउंट को सस्पेंड कर दिया गया है हालांकि उनकी पार्टी शिरोमणि अकाली दल का ट्वीटर अकाउंट अभी चल रहा है।

सिमरनजीत मान ने कहा

अमृतपाल सिंह के खिलाफ अभियान के बाद जब जालंधर पुलिस कमिश्नर की तरफ से भगोड़ा कहा गया तो सांसद सिमरनजीत सिंह मान ने ही एनकाउंटर की आशंका जाहिर की थी। सिमरनजीत मान ने कहा – मुझे डर है कि उनका (अमृतपाल सिंह) एनकाउंटर ना कर दें।

कल तक इन्हें मजिस्ट्रेट के सामने प्रोड्यूस करना पड़ेगा। अन्यथा समझेंगे कि किसी एनकाउंटर में इनका नाश कर दिया गया। अगर ऐसा हुआ तो वर्ल्ड वाइड सिखों में बहुत बड़ा बखेड़ा खड़ा हो जाएगा। जिम्मेदार सांसद होने के नाते मैं स्टेट को सुझाव देता हूं कि ऐसा कदम ना उठाएं, जिससे उनका (सरकार) नाश हो जाए।

सिमरनजीत मान के बारे में

सिमरनजीत सिंह मान एक खालिस्तानी समर्थक नेता हैं। वह 2022 में ही संगरूर सीट से उपचुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे। मान शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष हैं। वह पिछले साल तीसरी बार सांसद चुने गए थे। मान सबसे पहले तरन तारन से 1989 और 1991 के बीच सांसद रहे। संगरूर में 1999-2004 के बीच दूसरी बार सांसद रहे। इसके बाद पिछले साल संगरूर सीट से ही उपचुनाव जीते थे।

सिमरनजीत सिंह मान खालिस्तानी समर्थक हैं। उन्होंने अपने ट्वीटर अकांउट पर भी striving For Khalistan यानी खालिस्तान के लिए प्रयास, लिखा हुआ था। मान का शुरू से ही विवादों से नाता रहा है। सिमरनजीत सिंह मान ने अगस्त 2022 में शहीद ए आजम भगत सिंह पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसमें मान ने भगत सिंह को आतंकवादी कहा था। इसके बाद मान के इस बयान पर बवाल तेज हो गया।

ये भी पढ़ें: Amritpal Singh: चाचा और ड्राइवर ने किया सरेंडर, ‘अमृतपाल का हो सकता है एनकाउंटर’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *