Advertisement

Pramod Tiwari का बड़ा बयान-‘बिजली कंपनियों को Adani-Ambani को बेचना चाहती सरकार’

Share
Advertisement

प्रतापगढ़ में राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता प्रमोद तिवारी(Pramod Tiwari) ने अडानी और रफ़ायल के बहाने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। तो वहीं आम आदमी पार्टी की सरकार में पंजाब में फिर से सक्रिय हो रहे खालिस्तान समर्थको को लेकर निशाना साधा है। इतना ही नहीं योगी सरकार पर भी प्रमोद तिवारी ने उमेश पाल हत्याकांड को लेकर हमलावर हुए और सरकार का इक़बाल खत्म होने की बात कही।

Advertisement

यह बोले राजयसभा सांसद

राज्यसभा में कांग्रेड का उपनेता बनाये जाने के बाद पहली बार प्रतापगढ़ के लालगंज हेलीकॉप्टर से पहुचे प्रमोद तिवारी ने अडानी के मुद्दे पर बोले। उन्होंने कहा-‘अडानी का मामला आता है तो मोदी जी मौन हो जाते है, हाँथ कांपने लगते है पानी पीने लगते हैं, एक तरफ राहुल गांधी से कहा जाता है माफी मांगो दूसरी तरफ बोलने नही दिया जाता, जब बोलने नहीं देंगे तो अपनी बात कैसे रखेंगे। राहुल गांधी ने कैम्ब्रिज कुछ गलत नही कहा जो कहा उसको बताया नहीं जाता। वहां राहुल गांधी से अपने अनुभव को साझा करने को कहा गया तो उन्होंने देश हित और सम्बिधान हित में अनुभवों को साझा किया है।

प्रधानमंत्री की ओर इशारा करते हुए कहा कि-‘मोदी जी मौन तो हैं लेकिन मनमोहन नहीं हैं मौन इसलिए हैं कि अडानी जी से पर्दा उठ जाएगा और पर्दा उठ गया तो भाजपा के बड़े बड़े नेता बेनकाब हो जाएंगे, ये वही अडानी है जिनके जहाज 14 में मोदी जी प्रचार करते थे। प्रधानमंत्री के साथ विदेश जाते थे और जिनको लोन देने के लिए स्टेट बैंक के चेयरमैन को साथ लेकर श्रीलंका जाते थे। अगर पर्दा उठ गया तो रफ़ायल के मामले में बह पर्दा उठ जाएगा।

‘भारत की एकता और अखंडता के लिए खतरनाक है’

इतना ही नही प्रमोद तिवारी ने आम आदमी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पंजाब में जब से आम आदमी की सरकार बनी है तब इंदिरा गांधी समेत तमाम लोगो सेना की पुकिस की कुर्बानिया आम आदमी पार्टी के सत्ता में आने और केंद्र सरकार की वजह से जाया जा रहीं है, वहां पर एक बार फिर से आतंकवाद के स्वर फूट रहे है। वो भारत की एकता और अखंडता के लिए खतरनाक है।

प्रमोद तिवारी ने कहा हाइवे पर जिस तरह उमेश पाल व उनके दो गनर की हत्या की गई है। उससे सरकार का इकबाल खत्म हो गया क्योंकि हाइवे पर पुकिस चौकी से कुछ ही दूरी पर व्यस्त इलाके में एक व्यक्ति के साथ दो आर्म्ड सुरक्षा कर्मियों की हत्या होने के बाद वैसे ही सरकार का इकबाल खत्म हो क्योंकि बदमाशों ने इस तरह की हिमाकत की मेरा कहना है कि दोषी बचने नहीं चाहिए। मौका था लालगंज में प्रमोद तिवारी के राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता बनाये जाने बाद स्वागत समारोह का जहा प्रमोद तिवारी एक जुलूस की शक्ल में काफिले के साथ पहुचे थे और जोरदार स्वागत किया गया।

प्रतापगढ़ से मनीष ओझा की रिपोर्ट

ये भी पढ़ें: UP: डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का अखिलेश पर बयान, कही ये बड़ी बात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें