Advertisement

Celebration of Soldiers: बॉर्डर पर दिए और पटाखे जलाकर मनाई जवानों ने दीपावली

Share
Advertisement

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा में शनिवार 11 नवंबर की रात को भारतीय सेना के अधिकारियों और जवानों ने दिवाली मनाई। जवानों ने दिवाली का त्योहार अपने घरों और परिवारों से दूर बॉर्डर पर मोमबत्तियां और दीया जलाकर मनाया। जवानों ने भी कुछ छोटे-छोटे पटाखे फोड़े। ANI से बात करते हुए एक सैनिक ने कहा कि हालांकि हम घर और परिवार से दूर हैं, लेकिन भारतीय सेना भी हमारा परिवार है। हमारा घर बार्डर में है। इसलिए हम दिवाली अपने घर में ही मना रहे हैं और अपने प्रियजनों के साथ है। उन्होंने सभी को दिवाली की शुभकामनाएं दीं।

Advertisement

बॉर्डर पर मनाई जवानों ने दिवाली

बता दें, जम्मू में CRPF की 76वीं बटालियन के अधिकारियों और जवानों ने भी दिवाली का त्योहार मोमबत्तियां जलाकर और पटाखे फोड़कर मनाया। CRPF के एक अधिकारी ने ANI को बताया कि 76वीं बटालियन दिवाली बड़े उत्साह से मनाई जा रही है। हम अपने घर से दूर हैं, लेकिन हम सभी यहाँ एक परिवार की तरह हैं। CRPF अधिकारी ने जश्न के दौरान अधिकारियों की सतर्कता के बारे में कहा कि हम पूरे साल सतर्क रहते हैं, लेकिन त्योहारों के दौरान हम और भी सतर्क रहते हैं। हमारे देशवासियों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है।

प्रधानमंत्री ने मनाई जवानों के सात दिवाली

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, दूसरी ओर, इस बार भी दिवाली सेना के जवानों के साथ मनाई। इसके लिए वे आज नियंत्रण रेखा (LOC) से सटे छंब सेक्टर में पहुंचे। शनिवार देर रात तक जम्मू कश्मीर प्रशासन या सेना ने प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर कोई अधिकारिक घोषणा नहीं की, लेकिन संबंधित सैन्य विभाग उनके स्वागत की तैयारियों में जुटे हैं। प्रधानमंत्री ज्यौड़ियां के रक्ख मुट्ठी क्षेत्र में दिवाली मनाएंगे, सूत्र बताते हैं। वे दोपहर बाद दिल्ली लौटेंगे, लेकिन जाने से पहले वे एक सैनिक सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले कई वर्षों से सेना के साथ दिवाली मनाई है।

ये भी पढ़ें- Uttar Pradesh: व्यापारी की पत्नी की हत्या और लूट का आरोपी एनकाउंटर में ढेर, जाने पूरा मामला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें