Advertisement

पिछले दस सालों में सूझबूझ वाले पीएम साबित हुए मोदी जी- मनोहर लाल खट्टर

Manohar Lal in Karnal

Manohar Lal in Karnal

Share
Advertisement

Manohar Lal in Karnal: करनाल में 23 मई को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं करनाल लोकसभा प्रत्याशी मनोहर लाल ने एक प्रेसवार्ता को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि लोकसभा के चुनाव में भी लोग केंद्रीय योजनाओं के साथ प्रदेश की योजनाओं को सुनना चाहते हैं। यह केंद्रीय सरकार बनाने के लिए चुनाव है। पिछले 10 सालों में मोदी जी बलशाली और सूझबूझ वाले प्रधानमंत्री सिद्ध हुए हैं, जिन्होंने धारा 370, राम जन्मभूमि, तीन तलाक जैसी समस्याओं को समाप्त किया। जिसे हाथ लगाने से भी कांग्रेस डरती थी. इसलिए जनता अपना समर्थन जाहिर करती है।

Advertisement

उन्होंने कहा, गरीबों के लिए भी मोदी जी ने जितने काम किए हैं इसलिए सभी मोदी जी के साथ खड़े हैं। प्रदेश के गांवों की आवाज है कि हर गांव में नौकरियां लगी हैं जिसमें उनका कोई खर्च नहीं लगा। सरकार की नीतियां उनको पसंद आई हैं। मनोहर लाल ने कहा कि मैं विश्वास जाहिर करता हूं कि 25 मई को हरियाणा में 10 की 10 सीटें और करनाल विधानसभा उप चुनाव की सीट हम जीतेंगे। हरियाणा की जनता कांग्रेस के उस जमाने को याद करती है कि जब प्रदेश में भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद और जातिवाद की राजनीति होती थी। मनोहर लाल ने इसी करनाल की भूमि से कहा था कि इसे समाप्त करेंगे और हरियाणा एक हरियाणवीं एक इसका असर आज दिख रहा है।

मनोहर लाल ने कहा कि लगभग दो महीने पहले आचार संहिता लागू हुई थी। प्रदेश में 12 मार्च को उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था और 13 मार्च को नई सरकार का विश्वासमत पास हुआ था। 13 मार्च को ही हरियाणा में 6 प्रत्याशियों की घोषणा कर दी गई थी। 24 मार्च को अन्य 4 प्रत्याशियों की भी घोषणा हो गई थी। उन्हें संतोष है कि उनके द्वारा जितना भी प्रचार अभियान चलाया और नामांकन करवाए सभी कार्यक्रम सफल हुए हैं।

मनोहर लाल ने कहा कि करनाल लोकसभा क्षेत्र में उनकी सभाएं कम और रोड शो ज्यादा रहे। रोड शो के दौरान वे 211 गांव में गए जिनमें आस-पास के गांवों से लोग भी पहुंचे जिससे उन्होंने करीब 300 पंचायतें कवर कीं। शहर के कार्यक्रम अलग रहे। 6 क्लस्टर स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किए गए। उनका आज अंतिम कार्यक्रम पानीपत में रोड शो होगा।

मीडिया को लिखने और बोलने की स्वतंत्रता : मनोहर

मनोहर लाल ने राहुल गांधी द्वारा मीडिया के बारे में दिए गए बयान पर कहा कि मीडिया को लिखने और बोलने की स्वतंत्रता होती है। आलोचना को पढ़ऩा और सुनना भी आना चाहिए। उन्होंने लोकतंत्र के खिलाफ ऐसी बात कह दी जिससे एमरजेंसी की याद आती है। कांग्रेस ने 1975 में सबसे बड़ा घिनौना काम मीडिया के गले में फंदा लगाने का किया था कि मीडिया यह नहीं लिख सकता, वह नहीं लिख सकता। इसका परिणाम सबको मालूम है। यह अच्छी बात नहीं है।

‘विपक्षी दल कर रहा लोगों को भ्रमित’

विपक्षी दल लोगों को भ्रमित करने के लिए तरह-तरह की हरकतें कर रहे हेँ। यह कहा जा रहा है कि दिल्ली का पानी हरियाणा ने कम कर दिया है। मनोहर लाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश अनुसार हैदरपुर और वजीराबाद में जितना पानी वहां देना होता है। उतना पानी वहां देते हैं। जो पानी इन दोनों क्षेत्रों में दिया जाता है उसको बीच में से काटकर वे लोग अलग-अलग जगहों पर देने लग गए हैं। जबकि इनका शेयर से ज्यादा पानी आज भी हम देते हैं। जब गर्मी नहीं होती है हमारे पास और अतिरिक्त पानी होता है और हम इनके कहने पर दे भी देते हैं। मई जून में जब पानी कम होता है उस समय वही पानी जाता है जो शेयर होता है। यह कभी संभव नहीं कि हरियाणा की जनता को प्यासा कर दिल्ली को पानी देंगे। यह सुप्रीम कोर्ट में भी कहा जा चुका है। पानी के विषय पर इमोशनल खेल खेलना उचित नहीं हैं। मैं इसकी निंदा करता हूं।

दीपेंद्र हुड्डा पर लगाए आरोप

मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए घिनौना काम कर रहे दीपेंद्र रोहतक में दीपेंद्र हुड्डा ने घोषणा पत्र में जो कहा 8000 रुपए बांटने के लिए फार्म भरने शुरू कर दिए। यह वोटर को आकर्षित करने के लिए घिनौना काम किया हे। उन्होंने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। चुनाव आयोग निष्पक्ष रूप से इसका संज्ञान लेगा।

‘विरोध प्रदर्शन की भी एक मर्यादा’

कई स्थानों पर विरोध करने वालों के बारे में मनोहर लाल ने कहा कि इक्का दुक्का गांव में विरोध की बात आती है। जब भी किसी के दिमाग में कोई बात होती है तो वह विरोध दिखाता है लेकिन विरोध दिखाने की मर्यादा है और सीमा है। 20-50 लोग इकट्ठे होते हैं। ये लोग किसान और सिख का लिबास ओढ़ते हैं। ये लोग न तो सच्चे सिख हैं और न ही किसान हैं। सवाल करते हैं कि हमें दिल्ली जाने से क्यों रोका। दिल्ली में घुसपैठ करके इन्होंने क्या कुछ किया ये सभी को पता है और सभी ने देखा है। लाल किले पर जिस तरह दुश्मन की चढ़ाई होती है उस तरह चढक़र अपमान किया। जिस तरह धार्मिक स्थल पवित्र होते हें। इसी तरह लाल किला, इंडिया गेट जैसे स्थान भी पवित्र हैं। यह प्रधानमंत्री की सहनशीलता और सूझबूझ थी उस दिन प्रेम से मामले को सुलझाया। यदि कोई भी दुर्घटना होती तो यह बदनामी भाजपा के सिर पर रहती। जैसे ब्लू स्टार ऑपरेशन और 1984 के दंगे कांग्रेस पर धब्बा है।

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री और हरियाणा सरकार ने किसानों को इतनी सुविधाएं दी हैं कि हरियाणा का किसान हमारे साथ है। उन्होंने कहा कि दिल्ली जाने के लिए यातायात के साधन खुले हैं लेकिन ट्रैक्टर के आगे हथियार बांधकर जाना ठीक नहीं है। शरारती तत्वों को हमेशा रोका जाएगा।

जनता करेगी ऐसे लोगों का फैसला

वीरेन्द्र मराठा द्वारा दिए गए बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हर चीज की मर्यादा होती है। लोकतंत्र में अपने विचार रखने की भी अपनी मर्यादा है। मर्यादा का कोई उल्लंघन करेगा तो प्रशासन उसका एक्शन लेगा। यदि फिर भी ऐसा करते हैं तो जनता की अदालत में जाएंगे और जनता इनका संज्ञान लेगी और जनता ही इसका फैसला करेगी।

राहुल को गणित का ज्ञान नहीं : मनोहर लाल

राहुल गांधी के बयान पर पूछे गए सवाल मनोहर लाल ने कहा जिस प्रकार से राहुल ने कहा कि महिलाओं और नौजवानों को एक-एक लाख रुपए देंगे। वे कितनों के खाते में पैसे डालेंगे। यह 40 करोड़ की संख्या बनती है। 40 करोड़ लोगों को एक-एक लाख रुपए देंगे तो 40 लाख करोड़ रुपए बनता है। 46 लाख करोड़ रुपए देश का बजट है। इनमें से यदि 40 लाख करोड़ रुपए ये देंगे तो बाकि देश कहां जाएगा। देश को कंगाल करेंगे। पहले से ही देशहित में अनेकों योजनाएं चलाई जा रही हैं। रिसर्च, एजुकेशन, सेना, स्वास्थ्य कहां जाएगा। इनको गणित का ज्ञान नहीं है।

‘संत समाज में जागरूकता लाते हैं’

कथावाचक धीरेन्द्र शास्त्री पर आप प्रत्याशी द्वारा दिए गए बयान पर मनोहर लाल ने कहा कि संत समाज में जागरूकता लाते हेँ और समाज को सही दिशा में चलने की प्रेरणा देते हैं। संतों का कोई अपमान करेगा तो उसके लिए इस देश में कोई जगह नहीं है।

भाजपा ने जो कहा है वह करके दिखाया : मनोहर लाल

उन्होंने कहा, भाजपा ने जो कहा है वह करके दिखाया है। हरियाणा में मरीजों को 900 करोड़ रुपए इलाज के बाद दिए जा चुके हैं। किसानों के लिए फसल बीमा योजना लागू की है। इससे भी हजारों करोड़ रुपए दिया जा चुका है। हमनें व्यवस्था बनाई है जिसमें रेवेन्यू भी होता हे। मोदी जी ने 2017 में जीएसटी का प्रावधान किया था। जिसका विरोध भी हुआ लेकिन आज वही व्यापारी कहते हैं कि इससे बढियां व्यवस्था नहीं हो सकती। उस जीएसटी में पिछले महीने का रिकार्ड 2 लाख करोड़ रुपए का है जो एक महीने में रेवेन्यू आया है। हम फ्री में नहीं बांटते। हम काम के आंकड़े देते हैं। भाजपा सरकार द्वारा करोड़ों घरों में शौचालय बनवाए। आज कोई घर नहीं जिसमें सिलेंडर नहीं। मनोहर लाल ने कहा कि पांच चरणों का चुनाव हो चुका है। अब हीट वेव चल रही है। बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं कि मतदाताओं को घर से बाहर निकालना है। मतदान अधिक होना यह लोकतंत्र की जीत है और भाजपा को अधिक मतदान हो यह भाजपा क जीत है।

‘भ्रष्टाचार के खिलाफ बनाया गया सिस्टम कुछ लोगों को पसंद नहीं’

पूर्व सीएम मनोहर लाल ने कहा कि भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ व्यवस्था परिवर्तन किया है और जिन लोगों को भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाए गए यह कदम सूट नहीं किए उन्होंने विरोध किया है। लेकिन जनता ने इस काम को अच्छा बताया है। ज्यादातर सरपंच भाजपा के साथ हैं। भाजपा ने खुलकर कहा है कि भ्रष्टाचार नहीं होने दिया जाएगा। टोल प्लाजा को हटाने को लेकर पूछे गए सवाल पर मनोहर लाल ने कहा कि यदि कोई व्यवस्था बनेगी तो यह जरूर हटेगा। सडक़ें और इन्फ्रास्ट्रक्चर एक सिस्टम बनाया गया है। एक बड़ी समस्या है कि घरौंडा और पानीपत का टोल नजदीक है। इन्हें आपस में केसे मर्ज किया जाएगा इस पर काम करेंगे।

यह भी पढ़ें: UP: बसपा सुप्रीमो का ‘जाति कार्ड’, मुस्लिमों को लेकर कही ये बात…

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें