Advertisement

इंदौर में बाघ ने किया बुजुर्ग चरवाहे का शिकार, 200 फीट नीचे खाई में मिला क्षत-विक्षत शव

Share
Advertisement

गांव से एक किलोमीटर दूर जंगल में मवेशी चराने गए एक बुजुर्ग को बाघ ने अपना शिकार बना लिया। बुजुर्ग का हाथ सहित आधे से ज्यादा शरीर बाघ खा गया। ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों को घटना की सूचना दी गई। जिसके बाद वन विभाग के साथ ही पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई। ग्रामीणों ने बाघ को बुजुर्ग के शव को खाते हुए भी देखा है। वन विभाग ने मृतक के परिजनों को अंतिम संस्कार के 25 हजार रुपए नगद दिए। वहीं 8 लाख रुपए की आर्थिक मदद की जाएगी।

Advertisement

जंगल में बाघ के पगमार्क के निशान दिखाई दे रहे हैं। मामला महू रेंज के ग्राम मलेंडी से लगे हुए जंगल का है। जिस जगह बाघ ने शिकार किया है वहां ट्रैप कैमरे लगाए जाएंगे। साथ ही बाघ के पग मार्क्स वाले इलाके में चौबीस घंटे मॉनिटरिंग की जाएगी। ग्रामीणों के मुताबिक मलेंडी गांव के रहने वाले 60 वर्षीय सुंदरलाल पिता गंगाराम रविवार सुबह मवेशी चराने के लिए जंगल में गए थे। ग्रामीणों के अनुसार रविवार सुबह करीब 8 बजे बेटा हरिनारायण और पोती रानी उन्हें खाने देने के लिए जंगल गए।

दोनों ने सुंदरलाल को उसने ढूंढा लेकिन वे नहीं मिले। इस दौरान सुंदरलाल के कपड़े खून से सने हुए देख वे घबरा गए। पता चलने पर परिजन ग्रामीणों के साथ जंगल की ओर गए। जंगल में ग्रामीणों ने बाघ को सुंदर लाल के शव को खाते हुए देखा। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने जब सुंदरलाल को ढूंढा तो वह घटनास्थल से 200 फीट नीचे खाई में उनका शव पड़ा मिला।

वन विभाग के फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर वैभव उपाध्याय ने बताया कि बाघ ने जिस जगह सुंदरलाल को पकड़ा, वहां शिकार करने के बाद घसीटकर दो सौ मीटर दूर ले गया। वहां ले जाकर मृतक के शरीर को खाना शुरू कर दिया। इसके बाद सुंदर लाल के शरीर के कुछ अंगों को मुंह में दबाकर सौ मीटर दूर गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *