Advertisement

Madhya Pradesh में बढ़ा Measles का खतरा, WHO ने जारी की चेतावनी

Measles outbreak in Madhya Pradesh
Share
Advertisement

Madhya Pradesh में लगातार मीजल्स का कहर बढ़ता जा रहा है। मीजल्स मध्य प्रदेश में अबतक दो बच्चों को अपनी चपेट में ले चुका है। कुछ दिन पहले वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन यानी WHO ने मीजल्स को लेकर एक डराने वाली चेतावनी भी जारी की है। WHO के मुताबिक साल के अंत तक मीजल्स आधी से ज्यादा दुनिया को अपनी चपेट में ले सकता है। ऐसे में जरूरी हो जाता है कि इस बीमारी के बचाव को लेकर सही कदम उठाए जाए। खासकर जब देश के एक हिस्से में इसके मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है।

Advertisement

Madhya Pradesh: कैसे फैलता है मीजल्स?

मीजल्स को हिन्दी में खसरा कहा जाता है। मीजल्स वायरस के कारण फैलता है। मीजस्ल के शुरूआती लक्षण में शरीर पर दाने निकलने शुरू होते हैं, जो चेहरे से शुरू होकर पूरे शरीर में फैल जाते हैं। इसके साथ ही सर्दी, खांसी और आंखें भी लाल हो जाती हैं। यह बीमारी उन लोगों को फैलने की ज्यादा संभावना होती है, जिन्हें इस वायरस के खिलाफ वैक्सीन नहीं लगी है।

क्या हैं उपाय?

  • समय समय पर हाथ धोएं

वायरस आमतौर पर हाथों के जरिए हमारे शरीर में प्रवेश करता है। इसलिए किसी भी तरह के संक्रमण से बचने के लिए वायरस को खुद दूर रखने के लिए समय समय पर हाथ धोएं। बच्चों को बार-बार साबुन और पानी से हाथ धोने के लिए प्रेरित करें।

  • आसपास की चीजों कों सैनिटाइज करें

मीजल्स बेहद संक्रामक बीमारी है। इससे संक्रमित मरीज द्वारा छूई गई सतहों पर इसका वायरस करीब 3-4 घंटे तक जिंदा रह सकता है। ऐसे में जरूरी हो जाता है कि दरवाजे के हैंडल, नल, रसोई काउंटरटॉप्स और फर्नीचर जैसी बार-बार छुई जाने वाली सतहों को सैनिटाइज करना जरूरी है।

  • बच्चों को हाइड्रेट रखें

अगर आपकी इम्युनिटी स्ट्रोंग हो तो आप पर कोई भी बीमारी इतनी आसानी से हावी नहीं होती है। इसलिए किसी भी तरह के वायरस या बैक्टीरिया से बचने के लिए इम्युनिटी का मजबूत होना बेहद जरूरी है। ऐसे में अपने बच्चों को मीजल्स से बचाने के लिए उनकी इम्युनिटी का ख्याल रखना जरूरी है। अपने बच्चे को हाइड्रेटेड रखने के लिए उन्हें खूब तरल पदार्थ पिलाएं।

  • बच्चों को वैक्सीन लगवाएं

आज की तारीख में सभी बीमारियों के बचने के लिए वैक्सीन बना दी गई हैं। मीजल्स से बचने का सबसे प्रभावी और आसान तरीका भी इसकी वैक्सीन लगवाना ही है। अगर आप भी चाहते हैं कि इस इस बीमारी से आप और आपका बच्चा दूर रहे तो वैक्सीन जरूर लगवाएं।

ये भी पढ़ें- Raisen Crime News: पत्नी से विवाद में जीजा ने साले की घर में लगाई आग, 7 साल की मासूम बच्ची की हुई मौत

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *