Advertisement

इंदौर में झमाझम बारिश के आसार, छाए घने बादल

Share
Advertisement

देशभर में मानसून पहुंच चुका है। आसमान छाए बादल शहर को तरबतर करने में लगे है। शहर में बीते दिन से ही रिमझिम बारिश का दौर जारी है। आज इंदौर के साथ मध्यप्रदेश के पूर्वी इलाकों में जोरदार बारिश के आसार हैं। कल भी जोरदार बारिश हुई थी। भारी बारिश के चलते जबलपुर में 6 इंच से ज्यादा पानी गिरा। वहीं आज भी पूर्व में कहीं जोरदार तो कहीं भारी बारिश होने की उम्मीद है। मौसम विभाग ने 12 जिलों में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है।

Advertisement

दरअसल, बंगाल की खाड़ी के सिस्टम से पूरे प्रदेश में कहीं हल्की तो कहीं तेज तो कहीं भारी बारिश हो रही है। सिस्टम गंगेटिक बंगाल के डीप डिप्रेशन से लो और प्रेशर एरिया में तब्दील होने वाला है। इसी सिस्टम से होते हुए बिहार से मानसून द्रोणिका जा रही है, जिससे प्रदेश के पूर्वी इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी का सिस्टम और उस तक जा रही मानसून द्रोणिका से पूरे प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहेगी। प्रदेश के पूर्वी इलाकों में भारी बारिश हो सकती है।


मध्यप्रदेश में औसतन सामान्य से पांच फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। बीते 24 घंटों में इंदौर, उज्जैन, धार, गुना, सागर जबलपुर, दमोह, पचमढ़ी में एक इंच तक बारिश हुई। लेकिन मध्यप्रदेश के पूर्वी इलाकों में 9 फीसदी कम बारिश हुई है वहीं पश्चिम में 13 फीसदी ज्यादा हुई है।

बारिश की बात करें तो सिवनी में 28 इंच, नरसिंहपुर में 27 इंच बारिश हो चुकी है। छिंदवाड़ा, इंदौर, हरदा, नर्मदापुरम, सीहोर, रतलाम में 22 से 26 इंच तक बारिश हो चुकी है। सतना, रीवा, सिंगरौली, ग्वालियर, दतिया में दस इंच से कम बारिश हुई है। अब बारह जिलों- सिवनी, मंडला, पन्ना, बालाघाट, , उमरिया, शहडोल, अनूपपुर, रीवा, सतना डिंडोरी में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

लगातार बारिश ने तालाबों का जल स्तर बढ़ा दिया है। यशवंत सागर तालाब का तो एक गेट भी कुछ दिन पहले खोलना पड़ा था। बिलावली, सिरपुर, पीपलियापाला, लिम्बोदी के तालाब में भी लगातार पानी बढ़ रहा है।

ये भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें