Advertisement

land For Job Scam: राबड़ी देवी, मीसा और हेमा को कोर्ट से मिली राहत, जानिए क्या है पूरा मामला

lalu-yadav-rabri-devi-appeared-before-court-land-for-job-scam-bihar-case-interim-bail-news-in-hindi

lalu-yadav-rabri-devi-appeared-before-court-land-for-job-scam-bihar-case-interim-bail-news-in-hindi

Share
Advertisement

land For Job Scam: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव और उनके परिवार को शुक्रवार यानी आज रेलवे में नौकरी के बदले जमीन लेने के कथित घोटाले मामले में कोर्ट से राहत मिली है।

Advertisement

राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश हुआ लालू यादव का परिवार

 बताया जा रहा है कि दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में राबड़ी देवी, बेटी मीसा भारती और हेमा यादव की पेशी हुई। वहीं कोर्ट ने एक लाख के मुचलके पर अगली तारीख तक अंतरिम जमानत दी। कहा जा रहा है कि राबड़ी देवी, मीसा भारती और हेमा यादव की ओर से जमानत याचिका दायर की गई थी।

ED ने 4751 पेज की चार्जशीट फाइल की थी

गौरतलब है कि कोर्ट ने इस मामले में ED यानी प्रवर्तन निदेशालय की चार्जशीट का संज्ञान लेते हुए राबड़ी देवी, हेमा यादव, मीसा भारती, अमित काटयाल, हृदयनंद चौधरी और अन्य को 9 फरवरी यानी आज कोर्ट में पेश होने को कहा था।

यह भी पढ़ें: https://hindikhabar.com/national/pakistan-national-assembly-election-results-news-in-hindi/

आपकी जानकारी के लिए बता दें, प्रवर्तन निदेशालय ने इस कथित घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच करते हुए हाल ही में 4751 पेज की चार्जशीट फाइल की थी। जिसमें ईडी ने चार्जशीट में रावड़ी देवी, मीसा भारती, हेमा यादव, ह्रदयानंद चौधरी के साथ-साथ दो कंपनियों को भी आरोपी बनाया था।

जानें पूरा मामला

दरअसल, यह मामला 14 साल पुराना है। इस मामले में आरोप है कि तत्कालीन रेल मंत्री रहते हुए लालू प्रसाद यादव ने रेलवे में नौकरी के बदले जमीन ली थी। और आरोपों को लेकर सीबीआई ने 18 मई 2022 में केस दर्ज किया था।

वहीं CBI के मुताबिक, रेलवे में ग्रुप डी के पदों पर नौकरी के लिए पहले सब्स्टीट्यूट के तौर पर भर्ती किया गया फिर उनसे जमीन ट्रांसफर करवाने के बाद उनकी नौकरी पक्की कर दी गई। जिसके बाद CBI के आरोपों के ही आधार पर ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था।

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए। हिन्दी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *