Advertisement

चंडीगढ़ मेयर चुनावः कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, इंडी गठबंधन और देश की जनता की जीत- अरविंद केजरीवाल

Chandigarh Mayor Election

Chandigarh Mayor Election

Share
Advertisement

Chandigarh Mayor Election: आप पार्टी ने कहा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव में भाजपा द्वारा की गई बेइमानी की सच्चाई मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद देश के सामने आ गई। इस संबंध में ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं। चंडीगढ़ मेयर चुनाव में आखिरकार संविधान और लोकतंत्र की जीत हुई। यह ऐतिहासिक फैसला है। इस फैसले से चंडीगढ़ और पूरे देश की जनता की जीत हुई है। साथ ही, यह इंडी गठबंधन की पहली और बहुत बड़ी जीत है। एक तरह से हम यह जीत उनसे छीन कर लाए हैं।

Advertisement

‘जनतंत्र को बचाना पड़ेगा’

उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन के 20 में से 8 वोट चोरी कर लिए थे  लेकिन हमने हार नहीं मानी। यह जीत संदेश देती है कि एकता,  अच्छी प्लानिंग,  रणनीति और मेहनत से भाजपा को हराया जा सकता है। उन्होंने कहा ये लोग बड़े विश्वास से लोकसभा चुनाव में 370 सीट आने का दावा कर रहे हैं। इसका मतलब है कि इन्होंने कुछ तो गड़बड़ कर रखी है। देश के 140 करोड़ लोगों को मिलकर अपने जनतंत्र को बचाना पड़ेगा।

‘8 वोट गलत तरीके से रद्द घोषित कर दिए गए  थे’

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ मेयर चुनाव विवाद पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता की। उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव में सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला आया है। हम सबने देखा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव में साफ-साथ था कि 20 वोट इंडिया गठबंधन और 16 वोट भाजपा के थे। इंडिया गठबंधन के 20 में से 8 वोट गलत तरीके से रद्द घोषित कर दिए गए और इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी कुलदीप कुमार को हारा हुआ और भाजपा प्रत्याशी को विजयी घोषित कर दिया गया। मामला जब सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तो कोर्ट ने जल्दी-जल्दी सुनवाई की। सुप्रीम कोर्ट ने सारे बैलेट पेपर मंगाए और देखा। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को चंडीगढ़ मेयर चुनाव का परिणाम घोषित कर दिया।

‘देश में चल रही तानाशाही’

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि भारतीय इतिहास में यह पहली बार हुआ है। हम सुप्रीम कोर्ट का बहुत शुक्रिया करते हैं। क्योंकि आज देश में पूरी तरह तानाशाही चल रही है। जगह-जगह जनतंत्र को कुचला जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला जनतंत्र के लिए बहुत मायने रखता है।

‘हमारे लिए बहुत मायने रखती है यह जीत’

‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव का फैसला हमारे पक्ष में आना इंडिया गठबंधन की बहुत बड़ी जीत है। यह हमारे लिए बहुत मायने रखती है। उन लोगों ने तो वोट चोरी कर लिए थे। लेकिन हमने हार नहीं मानी। इंडिया गठबंधन के सभी सहयोगी दलों को भी इस जीत के लिए बहुत -बहुत बधाई।

‘यह जीत चंडीगढ़ के लोगों की भी जीत’

उन्होंने कहा कि यह जीत चंडीगढ़ के लोगों की भी जीत है। चंडीगढ़ के लोगों ने नतीजा यही दिया था कि इंडिया गठबंधन का प्रत्याशी मेयर बनना चाहिए। कोर्ट के आदेश के बाद जनता की जीत हो गई है। पूरे देश की जीत हुई है।

‘90 करोड़ वोटों में से कितने वोटों की करेंगे चोरी, सोचकर कांपती है रूह’

‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव में भाजपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और अकाली दल के कुल 36 वोट थे। इसमें एक संसद सदस्य शामिल है। उन 36 वोट की गणना में भाजपा वालों ने इंडिया गठबंधन के 8 वोट चोरी कर लिए। यानि हमारे 25 फीसद वोट चोरी कर लिए। अभी कुछ दिन बाद देश का सबसे बड़ा लोकसभा चुनाव होने जा रहा है। उसमें करीब 90 करोड़ वोट हैं। अगर ये लोग 36 वोट में से 25 फीसद वोट चोरी कर सकते हैं तो 90 करोड़ वोटों में से कितने वोट चोरी करेंगे, यह सोच कर भी रूह कांप उठती है। हम सुनते तो थे कि भाजपा वाले गड़बड़ करते हैं, वोटों की चोरी करते हैं, लेकिन कभी सबूत नहीं मिला। इस बार इनकी किस्मत खराब थी। चंड़ीगढ़ मेयर चुनाव के दौरान सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे और कैमरे में ये लोग रंगेहाथ पकड़े गए, इनका सारा कुकर्म पकड़ा गया। साफ जाहिर है कि ये कितने बड़े स्तर पर वोटों की चोरी करते हैं।

‘चुनाव जीतते नहीं हैं, ये लोग चुनाव चोरी करते हैं’

‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर देश में जनतंत्र नहीं बचेगा तो कुछ नहीं बचेगा। आज ये लोग बहुत ही विश्वास के साथ कह रहे हैं कि भाजपा की 370 सीट आएंगी। एक तरह से ये लोग देश के लोगों को चुनौती दे रहे हैं कि तुम्हारे वोट की हमें जरूरत नहीं है,  हमारी तो 370 सीट आ रही हैं। इसका मतलब साफ है कि इन्होंने कुछ तो गड़बड़ कर रखी है। अगर किसी देश के अंदर पार्टियां चुनाव से पहले साफ-साफ कहने लगें कि हमें वोट और लोगें की जरूरत नहीं है, तो उस देश में जनतंत्र खतरे में है। देश के 140 करोड़ लोगों को मिलकर देश के जनतंत्र को बचाना पड़ेगा। इससे यह भी साफ है कि ये लोग चुनाव जीतते नहीं हैं, ये लोग चुनाव चोरी करते हैं। चंडीगढ़ मेयर चुनाव ने इन लोगों को देश के सामने बेनकाब कर दिया है। दूध का दूध और पानी का पानी हो गया है।

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: सपा ने कांग्रेस को ऑफर की 17 सीटें, क्या फैसला लेगी कांग्रेस?

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *