Advertisement

बीपीएससी बहालीः दो नवंबर को गांधी मैदान में मुख्यमंत्री सौंपेंगे नियुक्ति पत्र

BPSC Appointment

BPSC Appointment

Share
Advertisement

BPSC Appointment: आगामी दो नवंबर को गांधी मैदान, पटना में नयुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वयं बीपीएससी के अंतर्गत नव नियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपेंगे।

Advertisement

BPSC Appointment: सरकार ने पूरी की तैयारियां

बीपीएससी बहाली को लेकर हो रहे हंगामे के बीच सरकार नव नियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपने की तैयारी पूरी कर चुकी है। इसे लेकर गांधी मैदान पर आयोजन किया जाएगा। बीपीएससी(बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन) में नवनियुक्त एक लाख 20 हजार 336 शिक्षकों को यह नियुक्ति पत्र सौंपे जाने हैं।

BPSC Appointment: 25000 अभ्यर्थियों को सीएम सौंपेंगे नियुक्ति पत्र

इस कुल नियुक्ति में से 25000 नव नियुक्त शिक्षकों को गांधी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार नियुक्ति पत्र सौंपेंगे। शेष शिक्षकों को काउंसलिंग वाले जिलों में ही नियुक्ति पत्र दे दिया जाएगा। इस संबंध में प्रदेश शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने सभी जिलों के जिलाधिकारी और संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है।

BPSC Appointment: दोपहर दो बजे तक गांधी मैदान पहुंचने के निर्देश

बताया गया कि प्रमंडल मुख्यालय में प्रमंडलीय आयुक्त ये नियुक्ति पत्र वितरित करेंगे। गांधी मैदान में सीएम नीतीश कुमार दोपहर तीन बजे पहुंचेंगे वहीं शिक्षकों को मैदान पर दोपहर दो बजे तक पहुंचने का निर्देश दिया गया है।

BPSC Appointment: अन्य जिलों में भी होगा वितरण कार्यक्रम

कार्यक्रम के दौरान अन्य जिलों में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए नियुक्ति पत्र वितरण की सूचना दी जाएगी। सीएम द्वारा नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद अन्य स्थानों पर नियुक्ति पत्र वितरण करने का कार्य आरंभ किया जाएगा।

BPSC Appointment: 14000 चयनित अभ्यर्थी अन्य राज्यों के

ज्ञात हो कि बीपीएससी बहाली में लगभग 14 हजार शिक्षक दूसरे राज्यों से चयनित हैं। ये सभी प्राथमिक शिक्षक के रूप में अनारक्षित पद पर चयनित हुए हैं। इन 14000 शिक्षकों में सबसे ज्यादा यूपी और इसके बाद झारखंड, हरियाणा आदि राज्यों के अभ्यर्थी हैं।

BPSC Appointment: प्राथमिक वर्ग में कुल 72000 नियुक्तियां

शिक्षा विभाग के अनुसार 9वीं से 12वीं तक शिक्षक बनने के लिए एसटीईटी(माध्यमिक, उच्च-माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा) उत्तीर्ण होना आवश्यक है। एसटीईटी परीक्षा का आयोजन केवल बिहार में ही होता है। इस कारण अन्य राज्यों से अभ्यर्थी इस पद पर चयनित नहीं हुए। प्राथमिक शिक्षक वर्ग में कुल 72000 हजार शिक्षकों की नियुक्ति हुई है। इनमें से 14000 अन्य राज्यों के हैं।

ये भी पढ़ें: बीपीएससी बहाली पर सियासी रार, ट्वीट पर भी जारी है तकरार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *