Uttarakhand news: पर्यटन स्थलों पर प्लास्टिक वेस्ट से मुसीबत, प्लास्टिक कचरे से पर्यावरण को नुकसान

देवभूमि उत्तराखंड सुंदर प्राकृतिक दृश्यों और आध्यात्मिक स्थलों की धरती है। जिनके दर्शन करने राज्य में बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। लेकिन पर्यटन स्थलों पर छोड़े गए प्लास्टिक वेस्ट से राज्य के पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंच रहा है। ऐसे में पहाड़ों पर प्लास्टिक कचरा फेंकने की अब ड्रोन से निगरानी की जाएगी।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। सीएम के निर्देश पर मुख्य सचिव डॉ. एस एस .संधू ने इसके लिए अधिकारियों को जरूरी इंतजाम करने को कहा है।  प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट के सम्बन्ध में बैठक  कर मुख्य सचिव ने ये निर्देश दिए हैं।

मुख्य सचिव ने कहा है कि प्लास्टिक मुक्त उत्तराखंड, प्रदेश के लिए पर्यटन की लिहाज से अहम होगा। और इससे राज्य के पर्यावरण को सुरक्षित रखने में भी मदद मिलेगी।इसके लिए प्लास्टिक कचरा प्रबंधन से जुड़े सभी विभागों को सक्रिय भूमिका निभानी होगी। मुख्य सचिव ने कहा कि शहरी निकायों के साथ ही ग्राम पंचायतों में कचरा प्रबंधन योजनाओं में प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन को भी शामिल करने पर जोर देना होगा। तभी राज्य को प्लास्टिक कचरे से मुक्त करने के लक्ष्य को पूरा किया जा सकेगा।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *